सूर्यदेव की विशेष उपासना होती है फलदायी, माथे पर लगाए चंदन का तिलक

Whatsaap Strip

Bhagwan Surya Ji :  रविवार के दिन भगवान सूर्यदेव की पूजा की जाती है। कहा जाता है कि रविवार के दिन व्रत और पूजा करने से भगवान सूर्यदेव का आशीर्वाद प्राप्त होता है। अगर आपकी कोई इच्छा है तो उसकी पूर्ति के लिए आप भी रविवार का व्रत रख सकते हैं। मान्यता है कि रविवार व्रत रखने से सभी संकटों का नाश हो जाता है और साथ ही आपकी सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं।

यह भी पढ़ें:- Bhagwan Suryadev: रविवार को होती है भगवान सूर्य की पूजा, जानिए सूर्यदेव को जल चढ़ाने का क्या है महत्व

सूर्यदेव की उपासना के लिए रविवार का दिन सबसे श्रेष्ठ (Bhagwan Surya Ji) माना गया है। पौराणिक ग्रंथों में भगवान सूर्य के अर्घ्यदान का विशेष महत्व बताया गया है। रविवार का दिन सूर्य उपासना के लिए सर्वोत्तम है। कहा जाता है कि रविवार के दिन सूर्यदेव की उपासना विशेष फलदायी होती है। इस दिन भगवान सूर्य की उपासना करने से मान-सम्मान और तेज की प्राप्ति होती है।

इस तरह करें सूर्यदेव की पूजा

मान्यता के मुताबिक अगर आप पूरे हफ्ते सूर्यदेव को जल अर्पित न कर सकें हो, तो रविवार के दिन सूर्यदेव (Bhagwan Surya Ji) को जल अवश्य अर्पित करें। तांबे के लोटे में लाल रंग के फूल डालकर जल अर्पित करने से लाभ होता है। ऐसे में जल अर्पित करते समय सूर्य मंत्र का जाप करना चाहिए। रविवार के दिन परिवार के लोगों के माथे पर चंदन का तिलक अवश्य लगाएं। हर रविवार सूर्यदेव का व्रत करने से कार्यक्षेत्र में उच्च पद की प्राप्ति होती है। कहते हैं कि रविवार के दिन व्रत रखने से आंख और स्किन संबंधी रोग से मुक्ति मिलती है। इस दिन आदित्य ह्रदय स्त्रोत का पाठ अवश्य करना चाहिए।

यह भी पढ़ें:- Lord Suryadev: रविवार का दिन भगवान सूर्य को समर्पित, इस तरह करें पूजा-पाठ

इन चीजों को करने से प्रसन्न होते हैं सूर्य

इस दिन तेल से बने खाद्य पदार्थ किसी जरूरतमंद को खिलाने से लाभ होता है। बड़े-बुजुर्गों की सेवा कर उनका आशीर्वाद (Bhagwan Surya Ji) प्राप्त करें। इस दिन दान का भी विशेष महत्व है। रविवार के दिन तांबे के बर्तन, पीले या लाल रंग के वस्त्र, गेहूं, गुड़, लाल चंदन का दान करना शुभ माना जाता है। रविवार के दिन सुबह घर से निकलने से पहले गाय को रोटी खिलाएं। इतना ही नहीं, इस दिन एक पात्र में जल लेकर बरगद के वृक्ष पर चढ़ाने से सूर्यदेव प्रसन्न होते हैं।

इस तरह करें सूर्यदेव की उपासना

सूर्यदेव की उपासना के लिए रविवार की रात अपने सिरहाने दूध का गिलास रखकर सोएं और सुबह इस दूध को बबूल के पेड़ की जड़ में डाल दें। इतना ही नहीं, इस दिन पीपल के पेड़ के नीचे दीपक जलाने से पद-प्रतिष्ठा में भी वृद्धि होती है। रविवार के दिन काली गाय (Lord Suryadev) को रोटी और काली चिड़िया को दाना डालें। इस दिन मछलियों को आटे की गोली बनाकर खिलाएं। कहते हैं कि इस दिन पैसों से संबंधित कोई भी कार्य नहीं करना चाहिए।

(नोट: यहां दी गई जानकारी धार्मिक मान्यताओं और जनसामान्य में प्रचलित जानकारियों पर आधारित है। इस आलेख में दी गई जानकारियों पर हम यह दावा नहीं करते कि, यह पूर्णतया सत्य और सही हैं। विस्तृत और अधिक जानकारी के लिए धार्मिक विशेषज्ञों-धर्म शास्त्रों के जानकर की सलाह जरूर लें। अनमोल न्यूज24 इसकी पुष्टि नहीं करता है।)

Related Articles