घायल जवानों से मिले CM विष्णुदेव साय, कहा- खत्म करके रहेंगे नक्सलवाद

CM Meet injured Soldiers: मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय ने सुकमा जिले के टेकलगुड़ेम में नक्सलियों के साथ हुई मुठभेड़ में घायल जवानों से मुलाकात कर उनका हालचाल जाना। मुख्यमंत्री साय ने डॉक्टर्स को जवानों के बेहतर इलाज के निर्देश दिए। कहा कि नक्सलवाद को खत्म करके रहेंगे। इस दौरान उपमुख्यमंत्री और गृहमंत्री विजय शर्मा के साथ ही वन मंत्री केदार कश्यप भी मौजूद रहे। बता दें कि जगरगुंडा थाना क्षेत्र में हुई मुठभेड़ में 3 जवान शहीद हो गए हैं। जबकि 14 जवान घायल हुए हैं, जिनका अलग-अलग अस्पतालों में इलाज जारी है।

यह भी पढ़ें:- सुकमा मुठभेड़ में 6 नक्सली ढेर, 3 जवान शहीद, 14 घायल

इससे पहले घायल जवानों से रायपुर IG रतन लाल डांगी ने भी मुलाकात की। इस दौरान जवानों नें उन्हें मुठभेड़ के बारे में जानकारी दी। जवानों ने बताया कि 500 से ज्यादा नक्सलियों ने उन्हें चारों तरफ से घेर लिया था। हालांकि उन्होंने भी नक्सलियों को मुंहतोड़ जवाब दिया। साथ ही 6 नक्सलियों को ढेर कर दिया। रायपुर IG रतन लाल डांगी ने बताया कि श्री नारायणा अस्पताल में भर्ती चार जवान में से एक जवान को गोली लगी है। बाकी तीन जवान को छर्रे लगे हैं। (CM Meet injured Soldiers)

बस्तर IG पी सुंदरराज ने बताया कि CRPF के घायल जवान वेंकटेश को 2 गोली लेफ्ट जांघ में लगी है। जबकि 1 स्पिकलर पेट में लगे है, जिससे स्थिति गंभीर बताई जा रही है। घायल जवान राजेश पांचाल को सीधे हाथ में गोली आर-पार हो गई। घायल जवान हरेंद्र सिंह को बाए घुटने और बाय कंधे पर चोट लगी है। वहीं इरफान के उल्टे हाथ की छोटी उंगली पर बुलेट इंजरी है। सभी की स्थिति के बारे में कुछ भी कहना मुश्किल है। हालांकि IG पी सुंदरराज ने कहा कि अभी सभी जवान खतरे से बाहर हैं। (CM Meet injured Soldiers)

वहीं मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय ने मुठभेड़ को लेकर कड़ी निंदा की है। उन्होंने कहा कि आम जनता तक बुनियादी सुविधाएं पहुंचाने के लिए शासन द्वारा सुरक्षा व्यवस्था मजबूत करने नए कैंप बनाए जा रहे हैं। नक्सली जिन इलाकों को अब तक अपना समझ रहे थे, उन इलाकों में नक्सली आतंकवाद के खिलाफ सुरक्षाबलों की दखल और बढ़ते प्रभाव से नक्सली बौखला गए हैं और कायराना हरकत कर रहे हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि हम हर स्थिति में अपने जवानों के साथ मजबूती से खड़े हैं। नक्सलवाद के खिलाफ अपनी लड़ाई दृढ़ता से जारी रखेंगे। (CM Meet injured Soldiers)

Related Articles

Back to top button