कढ़ाई, कुकर और तवा… रसोई में मत करना इनसे जुड़ी ये 3 गलत‍ियां, उल्‍टे पैर लौट जाएगी घर में आती लक्ष्‍मी

जीवन में उन्नति, प्रगति और लक्ष्‍मी सभी चाहते हैं. लक्ष्‍मी माता की कृपा हो जो जीवन का हर ऐश्‍वर्य आप तक खुद चलकर आता है. यही कारण है कि माता लक्ष्‍मी को प्रसन्न रखने के लि‍ए हम घर में कई काम करते हैं. चाहे घर की सफाई करना हो या फिर झाड़ू से जुड़े न‍ियम हों, बड़े-बुजुर्ग अक्‍सर हमें इससे जुड़ी सलाह देते हैं. लेकिन कई बार हम जाने अनजाने में कुछ ऐसी गलत‍ियां कर देते हैं, ज‍िससे हमारे घर में वास्‍तु दोष पैदा हो जाता है. प्रसिद्ध एस्‍ट्रोलॉजर प्रदुमन सूरी कहते हैं कि कई बार हम कुछ ऐसी गलत‍ियां अपनी रसोई में करते हैं, ज‍िससे पैसा हमारे घर में नहीं रुकता है.

एस्‍ट्रोलॉजर प्रदुमन सूरी बताते हैं, ‘कई लोगों की श‍िकायत होती है कि वो खूब पैसा कमाते हैं लेकिन पैसा उनके घर में रुकता नहीं है. दरअलस ऐसा आपके घर में बन रहे वास्‍तु दोष की वजह से होता है. हम अपनी रसोई में कुछ गलत‍ियां करते हैं. ज‍िनसे हमें बचना चाहिए. हमें रसोई के ये तीन बर्तन कभी भी उल्‍टे नहीं रखने चाहिए.

1) तवा – कई बार मह‍िलाएं धुला हुआ तवा या फिर रोटी बनाने के बाद तवा उल्‍टा कर के रख देती हैं. ऐसा कभी भी करना नहीं चाहिए. इससे धन हानि का प्रबल योग बनता है. इतना ही नहीं, इससे कुंडली में काल सर्प दोष तक उत्पन्न हो जाता है.

2) पतीला / कुकर- कई बार मह‍िलाएं कुकर धोकर उसे उल्‍टा कर के ही रैक में रख देती हैं. इससे नकारात्मक ऊर्जा का संचार बढ़ता है. ऐसा करने से भी बचना चाहिए.

3) कढ़ाई – कढ़ाई मां अन्नपूर्णा का सबसे प्रि‍य बर्तन माना जाता है. यही वजह है कि हर उत्‍सव या त्‍योहार या खुशी के मौके पर घर में चूल्‍हे पर कढ़ाई चढ़ाने की मान्‍यता सदियों से चली आ रही है. यही वजह है कि घर में कढ़ाई कभी भी उल्टी नहीं रखनी चाहिए. इससे मां अन्नपूर्णा आपसे नाराज हो जाती है.
 

Back to top button