युवाओं को विदेश से आ रहे फेक जॉब ऑफर, विदेश मंत्रालय ने जारी की एडवाइजरी

Whatsaap Strip

Fake Job Offers: आज कल बेरोजगार युवा नौकरी और अच्छे पैसे मिलने की आस में विदेश से आ रहे फेक जॉब ऑफर को एक्सेप्ट कर लेते हैं, जिसकी वजह से उन्हें परेशानियों का सामना करना पड़ता है। इस बीच भारत सरकार ने युवाओं को थाईलैंड से आ रहे फेक जॉब ऑफर से बचने की सलाह दी है। विदेश मंत्रालय ने शनिवार को एडवाइजरी जारी कर बताया कि भारत में युवाओं को थाईलैंड से फेक जॉब ऑफर मिल रहे हैं। ये ऑफर दुबई और भारत में बैठे एजेंट्स सोशल मीडिया एड के जरिए भेज रहे हैं।

यह भी पढ़ें:- CM भूपेश ने ली अधिकारियों की बैठक, सड़क निर्माण कार्यों में तेजी लाने के दिए निर्देश

एडवाइजरी के मुताबिक ये फेक जॉब ऑफर ऐसी IT फर्म की ओर से भेजे जा रहे हैं, जो कॉल सेंटर और क्रिप्टो करेंसी की धोखाधड़ी में शामिल हैं। ये कंपनियां थाईलैंड में मार्केटिंग और सेल्स की प्रोफाइल के जॉब ऑफर करती है। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने कहा कि युवाओं को फेक न्यूज ऑफर देकर बॉर्डर पार म्यांमार ले जाया जाता है। वहां उन्हें मजदूरी करने के लिए बंदी बना लिया जाता है। इस वजह से भारतीयों को यह सलाह दी जा रही है कि सोशल मीडिया या किसी दूसरे माध्यम से जारी हो रहे फेक जॉब ऑफर्स से बचें। (Fake Job Offers)

बंधक बनाए गए भारतीयों का रेस्क्यू

जानकारी के मुताबिक म्यांमार में इंडियन ऐंबैसी ने अवैध रूप से बंधक बनाए गए भारतीयों में से 30 लोगों को सुरक्षित निकाला है। बाकी फंसे लोगो को भी निकालने की कोशिश जारी है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक बंधक बनाए गए लोगों में तमिलनाडु के सबसे ज्यादा लोग शामिल है। सभी को थाईलैंड में जॉब का झांसा दे कर म्यांमार में बंधक बना लिया गया। काम करने से इनकार करने पर उनके साथ मारपीट की भी बातें सामने आ रही है। (Fake Job Offers)

कनाडा के लिए भी एडवाइजरी जारी

वहीं कुछ ही समय पहले तमिलनाडु के मुख्यमंत्री MK स्टालिन ने PM मोदी को चिट्टी लिखी थी। इसमें राज्य सरकार ने बताया था कि 50 तमिलनाडु के लोगों समेत 300 भारतीय म्यांमार में फंसे हुए हैं। बता दें कि 23 सितंबर को विदेश मंत्रालय ने कनाडा में रह रहे भारतीयों के खिलाफ बढ़ रहे हेट क्राइम को लेकर भी एडवाइजरी जारी की थी। इसमें कहा गया था कि कनाडा में हेट क्राइम, सांप्रदायिक हिंसा और भारत विरोधी गतिविधियों की घटनाएं तेजी से बढ़ रही हैं। कनाडा में रह रहे भारतीय नागरिकों और छात्रों को सलाह दी जाती है कि वे सावधानी बरतें और सतर्क रहें। (Fake Job Offers)

Related Articles