कुवैत में आग से 41 भारतीयों समेत 49 लोगों की मौत, 50 से ज्यादा घायल

Kuwait Fire Incident: कुवैत के मंगाफ शहर में भीषण हादसा हुआ है। दरअसल, 6 मंजिला इमारत में आग लगने से 41 भारतीयों समेत 49 लोगों की मौत हो गई है। जबकि 50 से ज्यादा लोग घायल हैं। मृतकों में भारत के अलावा पाकिस्तान, फिलिपींस, मिस्र और नेपाल के लोग भी शामिल हैं। मृतकों में से 11 लोग केरल के रहने वाले थे। आग लगने की घटना विदेशी कर्मचारियों के आवास वाली एक इमारत में हुई है। भारतीय विदेश मंत्रालय के मुताबिक घायल लोगों को कुवैत के 5 सरकारी अस्पतालों (अदान, जाबेर, फरवानिया, मुबारक अल कबीर और जहरा अस्पताल) में भर्ती कराया गया है, जहां उनका इलाज जारी है।

यह भी पढ़ें:- आज से मैराथन बैठक करेंगे CM विष्णुदेव साय, काम-काज को गति देने की जाएगी समीक्षा

विदेश मंत्रालय ने कहा कि कुवैत में हमारा दूतावास प्रभावित लोगों को राहत प्रदान करने के लिए स्थानीय अधिकारियों के संपर्क में बना हुआ है। दूतावास ने परिवार के सदस्यों से संपर्क करने के लिए एक हेल्पलाइन +965-65505246 (व्हाट्सएप और नियमित कॉल) जारी की है। हेल्पलाइन के माध्यम से नियमित अपडेट प्रदान किए जा रहे हैं। वहीं घटना को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दुख जताया है। साथ ही मृतकों के परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त की। उन्होंने घायलों के जल्द स्वस्थ होने की कामना करते हुए प्रधानमंत्री राहत कोष से मृतक भारतीय नागरिकों के परिवारों को 2 लाख रुपए की अनुग्रह राशि देने की घोषणा की है। (Kuwait Fire Incident)

विदेश राज्य मंत्री कीर्ति वर्धन ने दी जानकारी

इधर, विदेश राज्य मंत्री कीर्ति वर्धन सिंह कुवैत के लिए रवाना हो गए हैं। उन्होंने कहा कि कुवैत की घटना दुर्भाग्यपूर्ण है। प्रधानमंत्री समेत हम सभी बहुत चिंतित हैं। मैं वहीं जा रहा हूं और वहां जाकर स्थिति को देखूंगा। हमारे दूतावास के लोग पहले से ही वहां मौजूद हैं और घायलों की देखभाल कर रहे हैं। मैं वहां जा रहा हूं और वहां की स्थितियों के बारे में सरकार को सूचित करूंगा। शवों की पहचान के लिए डीएनए परीक्षण किया जा रहा है। जैसे ही शवों की पहचान हो जाएगी पार्थिव शरीर को वायु सेना के प्लेन से भारत लाया जाएगा। (Kuwait Fire Incident)

 

केरल और दक्षिण भारत के रहने वाले थे मृतक

विदेश राज्य मंत्री कीर्ति वर्धन सिंह ने कहा कि हमने कल शाम PM मोदी के साथ बैठक की। वहां पहुंचते ही स्थिति साफ हो जाएगी। स्थिति यह है कि पीड़ित ज्यादातर लोग जल गए हैं और कुछ शव इतने जल गए हैं कि उनकी पहचान करना मुश्किल हो गया है। शवों को वापस वायुसेना के प्लेन से लाया जाएगा। हमारे पास कल रात के नवीनतम आंकड़े हैं। हताहतों की संख्या लगभग 48-49 है। इनमें से 42 या 43 भारतीय लोग हैं। विदेश राज्य मंत्री ने कहा कि मृतकों में ज्यादातर लोग केरल और दक्षिण भारत के अन्य हिस्सों से हैं। (Kuwait Fire Incident)

Back to top button