गोलियों की आवाज से थर्राया छपरा, बदमाशों ने वकील पिता और बेटे को उतारा मौत के घाट, दोनों जा रहे थे कोर्ट

बिहार में अपराधियों के हौसले इतने बुलंद हैं कि वह आए-दिन हत्या, लूटपाट जैसी बड़ी-बड़ी घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं। ताजा मामला छपरा जिले से सामने आया है, जहां पर अज्ञात बदमाशों ने अधिवक्ता पिता और बेटे की गोली मारकर हत्या कर दी। वहीं, इस घटना के बाद इलाके में हड़कंप मच गया है। जानकारी के मुताबिक, घटना जिले के मुफस्सिल थाना क्षेत्र के दुदही पुल के पास की है। मृतकों की पहचान राम अयोध्या प्रसाद यादव और उनके सुनील कुमार राय के रूप में हुई है। घटना के संबंध में बताया जा रहा है कि अधिवक्ता राम अयोध्या प्रसाद अपने पुत्र सुनील कुमार के साथ अपने घर मेथवालिया से छपरा कचहरी जा रहे थे तभी दूधिया पुल के निकट पहले से घात लगाए बैठे अपराधियों ने पिता और पुत्र पर फायरिंग शुरू कर दी, जिसमें दोनों की मौके ही पर मौत हो गई हो गई। घटना को अंजाम देने के बाद बदमाश मौके से फरार हो गए।

जांच में जुटी पुलिस
हालांकि आनन फानन में स्थानीय लोगों द्वारा पिता-पुत्र को छपरा सदर अस्पताल लाया गया, जहां डॉक्टरों की टीम ने दोनों को मृत घोषित कर दिया। इधर, घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है और मामले की जांच में जुट गई है। इस मामले पर सारण के एसपी आशीष कुमार का कहना है कि जमीन विवाद के चलते दो लोगों की हत्या की गई है। पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है और बाकी लोगों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है।वहीं, इस घटना के बाद मृतकों के परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है।

Back to top button