NEET परीक्षा विवाद पर SC ने 2 हफ्ते में NTA से मांगा जवाब, कहा- अगर 0.01 फीसदी भी खामी पाई गई तो….

NEET Controversy : नीट यूजी परीक्षा 2024 को लेकर सुप्रीम कोर्ट में दायर याचिकाओं पर मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट ने सख्ती दिखाई. सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि अगर 0.01% प्रतिशत भी किसी की खामी पाई गई तो हम उससे सख्ती से निपटेंगे. सुप्रीम कोर्ट ने एनटीए को इस मामले में नोटिस जारी किया और जवाब मांगा है.

यह भी पढ़ें:- कैबिनेट मंत्री केदार कश्यप ने की बारिश से पहले तैयारियों की समीक्षा, रायपुर के सभी 70 वार्डों को लेकर दिए निर्देश

नीट मामले में अमूल्य विजय पिनापति और नितिन विजय की ओर से याचिका दायर की गई है. याचिकाओं में नीट के पेपर लीक होने की जांच करने की मांग की गई है. सुप्रीम कोर्ट इस मामले में 8 जुलाई को सुनवाई करेगा. (NEET Controversy )

वहीं, शीर्ष अदालत ने नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) और केंद्र से दो सप्ताह में जवाब तलब किया है. नितिन विजय की ओर पेश वकील ने कहा कि ऐसे परीक्षा होगी तो कैसे डॉक्टर बनेंगे, भगवान ही मालिक है. इस पर एनटीए ने आपत्ति जताते हुए कहा हमें जवाब देने दीजिए. याचिकाकर्ता के वकील ने कहा कि एनटीए अपनी गलती ग्रेस मार्क में मान चुका है. इस बीच सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र और एनटीए से दो सप्ताह में जवाब तलब किया है.

बच्चों की मेहनत को नहीं भूल सकते- सुप्रीम कोर्ट
सुप्रीम कोर्ट ने एनटीए और केंद्र से जवाब देने का निर्देश दिया. उसने कहा कि हम याचिकाकर्ता के मुताबिक आज ही आदेश नहीं दे सकते. सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र और एनटीए से कहा कि अगर किसी की ओर से 0.001 फीसदी भी लापरवाही हुई है, तो उससे पूरी तरह निपटा जाना चाहिए. बच्चों ने परीक्षा की तैयारी की है, हम उनकी मेहनत को नहीं भूल सकते. (NEET Controversy )

Back to top button