Trending

सचिन पायलट पर जमकर बरसे CM गहलोत, कहा- वो गद्दार हैं, कभी नहीं बन पाएंगे मुख्यमंत्री

Whatsaap Strip

Ashok Gehlot : राजस्थान में सियासी बवाल थमने का नाम नहीं ले रहा है। राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा से पहले अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) और सचिन पायलट के बीच की सियासी जंग ने नया रूप ले लिया है। एक निजी राष्ट्रीय समाचार चैनल के साथ इंटरव्यू में सचिन पायलट पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) जमकर बरसे। गहलोत ने कहा कि सचिन पायलट गद्दार है। वे कभी मुख्यमंत्री नहीं बन पाएंगे। आलाकमान कभी सचिन पायलट को सीएम नहीं बनाएगा।

यह भी पढ़ें : दिल्ली की जामा मस्जिद में लड़कियों की एंट्री पर लगा बैन, वीएचपी ने कहा- भारत को सीरिया बनाने वाली मानसिकता

Ashok Gehlot ने कहा- कभी सीएम नहीं बन सकते पायलट

सीएम गहलोत ने कहा कि जिसके पास 10 विधायक भी नहीं हैं, जिसने सत्ता पाने के लिए बगावत की और पार्टी को धोखे में रखा वो गद्दार है। वो कभी सीएम नहीं बन सकता। गहलोत ने कहा कि देश में ऐसा पहली बार हुआ होगा जब एक पार्टी अध्यक्ष ने अपनी ही सरकार को (2020 में) गिराने का प्रयास किया। जिसके लिए उन्हें भारतीय जनता पार्टी ने फंड दिया और मानेसर के होटल में बीजेपी के नेता धर्मेंद्र प्रधान विधायकों से मिलने आते थे।

गहलोत यही नहीं रुके। उन्होंने पायलट और उनके साथ के MLA पर बीजेपी से 10 करोड़ रुपए लेने की बात कही, साथ ही बोले कि इस बात के सबूत उनके पास हैं। 2020 में सचिन पायलट और उनके समर्थित विधायकों के साथ मानेसर के एक होटल में जाकर कैद हो जाने पर राजस्थान की गहलोत सरकार संकट में आ गई थी। इसके बाद जो हुआ जगजाहिर है।

पायलट ने की थी सरकार गिराने की कोशिश

गहलोत ने कहा की साल 2009 में देश में कांग्रेस की सरकार बनी तो सचिन पायलट के मंत्री बनाने की सिफारिश उन्होंने ही आलाकमान से की थी। इंटरव्यू के दौरान अशोक गहलोत सचिन पायलट के रवैये खासे नाराज नजर आ रहे थे। 25 सितंबर को राजस्थान सरकार में बागी हुए कांग्रेस विधायकों की बात पर सीएम बोले, ये बगावत मेरे खिलाफ नहीं थी। यह सचिन पायलट के खिलाफ थी, विधायक इस बात से नाराज थे कि 2020 में जिसने बीजेपी के इशारों पर राजस्थान में सरकार गिराने की हिमाकत की वो फिर से ऐसी कोशिश कर रहा है इसलिए 90 विधायकों पायलट के खिलाफ लामबंद हुए थे।

यह भी पढ़ें : 2024 के लोकसभा चुनाव में यूपी की इस सीट से मैदान में उतरेंगे अखिलेश यादव, मीडिया के सामने किया खुलासा

राजस्थान में फिर बनेगी कांग्रेस की सरकार- Ashok Gehlot

कांग्रेस अध्यक्ष पद का चुनाव नहीं लड़ने पर गहलोत बोले, हमारी सरकार राजस्थान में फिर बने हम इसकी पूरी कोशिश कर रहे हैं। इसलिए सोनिया गांधी से मिलकर उन्होनें अपनी बात स्पष्ट रखी थी, साथ ही उन्होनें कांग्रेस और गांधी पर अपनी पूरी आस्था जताई। सचिन पायलट से सुलह के सवाल को गहलोत टाल गए, लेकिन राजस्थान में सरकार को अस्थिर करने की कोशिश पायलट कर रहे है इसके साफ संकेत गहलोत ने दे दिए। राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा से पहले अशोक गहलोत के बेबाक बयान ने एक बार राजस्थान की राजनीति में हलचल मचा दी है। देखना होगा कि राहुल गांधी राजस्थान में भारत जोड़ो यात्रा के दौरान दोनों के बीच की दूरी को कम कर पाएंगे या नहीं।

Related Articles