BJP ने कांग्रेस सांसद के आरोपों पर किया पलटवार, कहा- संवेदनशील मुद्दे पर कर रहे ओछी सियासत

BJP on Rahul Gandhi: कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने कांग्रेस मुख्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर NEET और UGC-NET परीक्षा को लेकर केंद्र सरकार पर जमकर हमला बोला। इस पर BJP ने पलटवार किया है। नई दिल्‍ली में राज्यसभा सांसद और पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्‍ता सुधांशु त्रिवेदी ने कहा कि राहुल गांधी इस मुद्दे पर राजनीति कर रहे हैं। उन्‍हें लाखों विद्यार्थियों के भविष्‍य से कोई लेना-देना नहीं है। उन्‍होंने कहा कि सरकार नीट परीक्षा के मुद्दे पर पूरी तरह सतर्क और संवेदनशील है और विद्यार्थियों के साथ कोई अन्‍याय नहीं होने देगी। सुधांशु ने कहा कि दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। राजस्थान में डेढ़ दर्जन से ज्यादा पेपर लीक के मामले हुए थे, लेकिन राहुल गांधी ने एक भी शब्द नहीं बोला था। 

यह भी पढ़ें:- शारीरिक, मानसिक स्वास्थ्य और तनाव रहित जीवन का माध्यम है योग: स्वास्थ्य मंत्री जायसवाल

वहीं BJP नेता शहजाद पूनावाला ने कहा कि राजस्‍थान में अशोक गहलोत के नेतृत्व वाली तत्कालीन कांग्रेस सरकार देश में पेपर लीक की जननी थी और तब राहुल गांधी ने इस बारे में एक शब्‍द भी नहीं कहा था। उन्‍होंने कहा कि यूपीए के शासन के समय पेपर लीक की घटना हर साल हुआ करती थी। राहुल गांधी शिक्षा जैसे गंभीर और संवेदनशील मुद्दे पर ओछी सियासत कर रहे हैं। राहुल गांधी प्रतीक हैं कि सिर्फ उम्र बढ़ने से विवेक का विस्तार नहीं होता। वे चुनाव में तीसरी बार फेल हुए हैं तो इसका मतलब ये नहीं कि वे मध्य प्रदेश और गुजरात के युवाओं को गालियां देंगे। (BJP on Rahul Gandhi)

राहुल गांधी ने केंद्र सरकार पर लगाया था आरोप

इससे पहले नई दिल्‍ली में कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने नीट परीक्षा में कथित अनियमितताओं के दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की थी। उन्‍होंने कहा था कि यह राष्‍ट्रीय संकट है और सरकार इस मुद्दे पर चुप है। राहुल गांधी ने कहा था कि भारत जोड़ो न्याय यात्रा के दौरान उन्हें पेपर लीक की कई शिकायतें मिली थी। अब देश में NEET और UGC-NET के पेपर लीक हुए हैं। दावा किया जाता है कि नरेंद्र मोदी युद्ध रुकवा देते हैं, लेकिन वे पेपर लीक नहीं रुकवा पा रहे हैं या फिर वे पेपर लीक रोकना नहीं चाहते।  मध्यप्रदेश में व्यापमं घोटाला हुआ, जिसे नरेंद्र मोदी पूरे देश में फैला रहे हैं। (BJP on Rahul Gandhi)

Back to top button