छात्रों के हितों से कोई समझौता नहीं किया जाएगा: केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान

Education Minister Pradhan: केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने दिल्ली प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि मैं सभी को आश्वस्त करना चाहता हूं कि सरकार छात्रों के हितों को सुरक्षित करने के लिए प्रतिबद्ध है। छात्रों का हित हमारी प्राथमिकता है और उसके साथ किसी भी कीमत पर समझौता नहीं होगा। NEET परीक्षा के संबंध में हम बिहार सरकार के साथ लगातार संपर्क में है और पटना से हमारे पास कुछ जानकारी भी आ रही है। पटना पुलिस जांच कर रही है। वो डिटेल रिपोर्ट जल्द ही भारत सरकार को भेजेंगे।

यह भी पढ़ें:- NEET अभ्यर्थियों से मिले कांग्रेस सांसद राहुल गांधी, कहा- युवाओं को न्याय दिला कर रहेंगे

केंद्रीय शिक्षा मंत्री ने कहा कि मैं आपको विश्वास दिलाना चाहता हूं की पुख्ता जानकारी आने पर दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। सरकार एक उच्च स्तरीय समिति बनाने जा रही है। उस उच्च स्तरीय समिति से NTA, इसकी संरचना, कार्यप्रणाली, परीक्षा प्रक्रिया, पारदर्शिता और डेटा सुरक्षा प्रोटोकॉल को और बेहतर बनाने के लिए सिफारिशें अपेक्षित रहेंगी। सरकार आपके भविष्य के लिए प्रतिबद्ध है। हम आपको भरोसा दिलाते हैं कि सरकार आपके हितों की रक्षा के लिए हमेशा पारदर्शी प्रक्रिया अपनाएगी। सरकार और सिस्टम पर भरोसा रखें। सरकार द्वारा कोई भी गलत काम बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। (Education Minister Pradhan)

‘संवेदनशील मुद्दे पर नहीं करनी चाहिए राजनीति’

केंद्रीय शिक्षा मंत्री प्रधान ने कहा कि कुछ गड़बड़ियां सरकार के संज्ञान में आई हैं। हम इसकी जिम्मेदारी लेते हैं। मैं छात्रों से विनम्रतापूर्वक अनुरोध करना चाहूंगा कि वे अफवाहों पर विश्वास ना करें। नीट-यूजी परीक्षा उत्तीर्ण करने वाले छात्रों के हितों का ध्यान रखा जाएगा। यूजीसी नेट परीक्षा रद्द करने पर उन्होंने कहा कि भारतीय साइबर अपराध समन्वय केंद्र से प्राप्त इनपुट के आधार पर सरकार ने परीक्षा रद्द करने का फैसला किया है। धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि छात्रों से जुड़े इस संवेदनशील मुद्दे को लेकर राजनीति नहीं करनी चाहिए। (Education Minister Pradhan)

Back to top button