Health Tips – कंप्यूटर के अत्यधिक इस्तेमाल से सेहत पर पड़ सकता है बुरा प्रभाव, इन बातों का रखें खास ख्याल

Whatsaap Strip

न्यूज डेस्क

आज देश के कोने कोने में करोड़ो लोगों द्वारा में कंप्यूटर और लैपटॉप जैसे आधुनिक उपकरणों का उपयोग किया जा रहा है और जैसे-जैसे कंप्यूटर इस्तेमाल करने वालों की संख्या बढ़ रही है वैसे ही इससे होने वाली स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं भी बढ़ रही हैं। बता दें कि अगर आप लगातार चार घंटे या उससे अधिक समय तक कंप्यूटर पर काम करते हैं तो आपको कई तरह की स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।आइये देखते हैं कि कंप्यूटर के अत्याधिक इस्तेमाल से कैसी परेशानियां हो सकती है

मांशपेशियों में हो सकता है दर्द

जो लोग नियमित रूप से कम्प्यूटर का उपयोग करते हैं उन्हें थकान और मांसपेशियों में दर्द की समस्या होती है। उन्हें मुख्यतः हाथ, कंधे, पैर, पीठ और सीने में दर्द होता है। इन समस्याओं का प्रमुख कारण होता है उनका सही मुद्रा में बैठकर काम नहीं करना।इससे बचने का एक ही उपाय है-अपनी चेयर को इस तरह से सैट करना चाहिए कि स्क्रीन और आंखों का लेवल समान हो या फिर स्क्रिन थोड़ी नीचे हो। आपके पैर फर्श से लगे हों और कमर सीधी रहे।इन सबके अलावा आप की कोहनी को पूरा सपोर्ट मिलना चाहिए। लंबे समय तक बैठकर काम नहीं करना चाहिए। काम के बीच-बीच में ब्रेक बहुत जरूरी है इसलिए ब्रेक लेते रहें।

हो सकता है सूजन का खतरा

कई बार हम लगातार काम लेते हैं ऐसे में गर्दन, कंधे में दर्द, या उंगलियों में दर्द के साथ-साथ सूजन और जकडऩ की समस्या हो सकती है। उदाहरण के लिए,जब आप बार-बार माउस और टाइपिंग का काम करते हैं तो इससे आपकी उंगलियों और कलाई पर ज्यादा जोर पड़ता है जिससे उनमें दर्द उठता है तो बेहतर होगा कि माउस को की-बोर्ड के साथ ही रखें और उसे अपने पूरे हाथ से पकड़कर ही उपयोग करें। एक और बात,अपनी कलाई को एक ही स्थान पर ना ही रखें तो बेहतर है। उंगलियों पर टाइपिंग करते समय ज्यादा दबाव नहीं बनाना चाहिए। जब माउस और की-बोर्ड का उपयोग ना हो तो अपने आर्म्स को खुला छोड़ दें।

हो सकती है मोटापे की समस्या

गौरतलब है कि कम्प्यूटर के बहुत लंबे समय तक इस्तेमाल करने से मोटापे की समस्या व अधिक बढ़ जाती है। खासकर बच्चों को इसका ज्यादा खतरा होता है। बच्चों का कम्प्यूटर पर गेम खेलने का समय तय करके रखें और उन्हें आउटडोर स्पोट्र्स के लिए गाइड करें।ऑफिस के बाद घर पर बुजुर्गों को कम्प्यूटर का इस्तेमाल करने से परहेज करना चाहिए।

पड़ सकता है आंखों से जुड़ी समस्याओं का करना सामना
कम्प्यूटर की चमक बहुत तेज होती है ऐसे में यह आंखों के लिए बहुत सारी समस्याएं खड़ा कर सकती है। लगातार स्क्रीन के सामने रहने से आंखें सूख सकती हैं जिससे आपको कम्प्यूटर विजन सिंड्रोम की समस्या हो सकती है। अगर इस समस्या से बचना है तो कम्प्यूटर की ब्राइटनेस और कन्ट्रास्ट सेट कर लें। उसे थोड़ा झुका लें ताकि चमक से बचाव हो सके। स्क्रीन से थोड़ा दूर ही बैठकर काम करें। बीच बीच में ब्रेक के साथ पलकों को आराम दें।

सिरदर्द की समस्या

लंबे समय तक कम्प्यूटर का उपयोग करने से मांशपेशियों और गर्दन में दर्द की समस्या हो सकती है। कभी-कभी तो आंखों पर ज्यादा जोर पडऩे से सिरदर्द भी हो जाता है। ऐसे में अगर आपको सिरदर्द की समस्या होती है तो आंखों की जांच अवश्य ही करवाएं। लगातार नीचे ना ही देखें तो बेहतर है। ज्यादा समय तक गर्दन मोड़कर ना ही रखें तो बेहतर है। बीच-बीच में ब्रेक लें और गर्दन को घुमाते रहें।

तनाव की भी हो सकती है समस्या

कम्प्यूटर के लगातार इस्तेमाल करने से आपको तनाव का भी शिकार होना पड सकता है। अपनी एकाग्रता खोने के साथ साथ चक्कर आने की संभावना भी होती है । इसलिए अगर चाहते हैं कि तनाव से स्वास्थ्य पर कोई बुरा असर ना हो तो योगाभ्यास एक बेहतर समाधान हो सकता है। इसके साथ ही लाफ्टर योगा भी एक बेहतर विकल्प साबित हो सकता है।

Related Articles