इंदिरा कला संगीत विश्वविद्यालय की कुलपति ममता चंद्राकर हटाई गई, जारी हुआ आदेश

Indira Kala Sangit Vishwavidyalaya : मोक्षदा चंद्राकर (ममता चंद्राकर) को संगीत विश्वविद्यालय के कुलपति पद से हटा दिया गया है। इस संबंध में राजभवन से पत्र जारी कर दिया गया है। पूर्ववर्ती भूपेश सरकार ने मोक्षदा चंद्राकर इंदिरा गांधी संगीत के विश्वविद्यालय का कुलपति बनाया था। मोक्षदा चंद्राकर (ममता चंद्राकर) को इंदिरा गांधी संगीत विश्वविद्यालय का 2020 में कुलपति बनाया गया था।

यह भी पढ़े :- छत्तीसगढ़: रजत बंसल को मनरेगा आयुक्त का अतिरिक्त प्रभार, नम्रता जैन बनीं सुकमा की CEO

राजभवन की तरफ से जारी आदेश के मुताबिक इंदिरा कला संगीत विश्वविद्यालय (Indira Kala Sangit Vishwavidyalaya) अधिनियम 1956 की धारा 17-ए में निहित प्रावधान के तहत राज्यपाल एवं कुलाधिपति इंदिरा कला संगीत विश्वविद्यालय खैरागढ़ द्वारा मोक्षदा चंद्राकर को इंदिरा कला संगीत विश्वविद्यालय खैरागढ़ के कुलपति पद से तत्काल प्रभाव से हटाये जाने का आदेश दिया है। मोक्षदा चंद्राकर को पद से हटाये जाने के फलस्वरूप इंदिरा कला संगीत विश्वविद्यालय खैरागढ़ में नये कुलपति की नियुक्ति होने तक संभागायुक्त दुर्ग, संभाग को तत्काल प्रभाव से अस्थायी रूप से आगामी आदेश तक इंदिरा कला संगीत विश्वविद्यालय खैरागढ़ का कुलपति का दायित्व सौंपा जाता है।

बता दें कि इंदिरा कला संगीत विश्वविद्यालय खैरागढ़ (Indira Kala Sangit Vishwavidyalaya) में कुलपति ममता चंद्राकर नियुक्ति के बाद से ही विवादों में बनी रही। पहले तो इनकी नियुक्ति को लेकर ही कई प्रश्न खड़े हुए। बाद में यूनिवर्सिटी के ऑफ कैंपस को रायपुर में स्थापित करने का भी इन पर आरोप लगा था।

Back to top button