नेशनल हेल्थ मिशन से लाइफस्टाइल होगी आसान, जानिए कब होगी इसकी शुरुआत?

Whatsaap Strip

नेशनल न्यूज।

27 सितंबर को राष्ट्रीय डिजिटल स्वास्थ्य मिशन की राष्ट्रव्यापी शुरुआत होनी है। जिसकी घोषणा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे। इसका नाम बदलकर प्रधानमंत्री डिजिटल स्वास्थ्य मिशन कर दिया गया है। पीएम-डीएचएम के तहत लोगों को प्रदान की जाने वाली डिजिटल हेल्थ आईडी में नागरिक का स्वास्थ्य रिकॉर्ड होगा।

अधिकारियों ने बताया कि पीएम-डीएचएम डेटा, सूचना और बुनियादी ढांचा सेवाओं की एक विस्तृत श्रृंखला के माध्यम से एक कुशल, सुलभ, समावेशी, किफायती और सुरक्षित तरीके से सार्वभौमिक स्वास्थ्य कवरेज प्रदान करता है। अधिकारियों ने कहा कि मिशन पटरी पर है और तीन बुनियादी प्लेटफॉर्म- हेल्थ आईडी, डॉक्टर का पंजीकरण और स्वास्थ्य केंद्रों का पंजीकरण चालू कर दिया गया है।

ID में हर एक नागरिक का स्वास्थ्य रिकॉर्ड

बता दें कि इस डिजिटल हेल्थ आईडी में नागरिक का स्वास्थ्य रिकॉर्ड होगा। प्रत्येक व्यक्ति के लिए विशिष्ट आईडी बनाने के लिए आधार और मोबाइल नंबर जैसे विवरणों के साथ स्वास्थ्य आईडी कार्ड बनाया जाता है। अधिकारियों ने कहा कि मिशन पटरी पर है और तीन बुनियादी प्लेटफॉर्म- हेल्थ आईडी, डॉक्टर का पंजीकरण और स्वास्थ्य केंद्रों का पंजीकरण चालू कर दिया गया है।

यह भी पढ़ें : परीक्षा के दौरान हुआ बड़ा हादसा, स्कूल की छत गिरने से मासूम बच्चों सहित अध्यापक व मजदूर भी हुए गंभीर रूप से घायल

गौरतलब है कि पीएम मोदी ने कहा था कि यह योजना लोगों के जीवन को आसान बनाएगी। प्रधानमंत्री ने एनडीएचएम के तहत कामकाज के विस्तार के लिए तेजी से कदम उठाने का निर्देश दिया था और कहा था कि इस मंच का महत्व नागरिकों को तब दिखेगा, जब उन्हें इसके तहत मिलने वाली विभिन्न सेवाओं का लाभ मिलेगा।

पिछले साल PM ने की थी घोषणा

प्रधानमंत्री ने पिछले साल स्‍वतंत्रता दिवस के अवसर पर राष्‍ट्र के नाम अपने सम्‍बोधन में एनडीएचएम के शुभारंभ की घोषणा की थी।प्रधानमंत्री ने कहा था कि तकनीकी प्लेटफार्म और रजिस्ट्रियों का निर्माण भले ही अनिवार्य आवश्यक तत्व हैं, लेकिन नागरिकों के लिए इस प्लेटफार्म की उपयोगिता एक डॉक्टर के साथ टेली परामर्श, एक जांच प्रयोगशाला की सेवाओं, जांच रिपोर्ट या स्वास्थ्य रिकॉर्ड को डिजिटल रूप से डॉक्टर को स्थानांतरित करने और उपरोक्त किसी भी सेवा के लिए डिजिटल रूप से भुगतान करने जैसी सेवाओं का लाभ उठाने में देशभर के नागरिकों को सक्षम बनाने के जरिए ही दिखाई देगी।

Related Articles