कर्नाटक में सिद्धारमैया कैबिनेट ने 5 वादों पर लगाई मुहर, 11 जून से 15 अगस्त के बीच लागू होंगी योजनाएं

Siddaramaiah Cabinet Decision: कर्नाटक में सरकार बनने के बाद कैबिनेट का विस्तार भी हो गया है। इसी बीच शुक्रवार को कांग्रेस की सिद्धारमैया सरकार ने चुनाव से पहले किए गए पांच वादों पर कैबिनेट बैठक में मुहर लगा दी है। राज्य सरकार ने इन वादों को इसी साल 11 जून से लागू करने की घोषणा की है। CM सिद्धारमैया ने कहा कि कैबिनेट ने जाति या धर्म का भेदभाव किए बिना पांचों गारंटी को लागू करने का फैसला किया है। मैंने और डिप्टी CM डीके शिवकुमार ने गारंटी कार्ड पर साइन कर दिए हैं। हमने इसकी टाइम लाइन भी तय कर दी है।

यह भी पढ़ें:- दुष्कर्म का केस दर्ज : सोशल मीडिया पर दोस्ती की, शादी का झांसा देकर किया दुष्कर्म , आरोपी आरक्षक गिरफ्तार

बता दें कि सबसे पहले 11 जून से सखी शक्ति योजना लागू की जा रही है। इसके तहत कर्नाटक की महिलाएं स्टेट ट्रांसपोर्ट की बस से राज्य में कहीं भी मुफ्त यात्रा कर सकेंगी। गृह ज्योति योजना 1 जुलाई से लागू हो रही है। इसके तहत घरेलू उपभोक्ताओं को 200 यूनिट तक बिजली फ्री मिलेगी। हालांकि उससे पहले के बिल का भुगतान करना होगा। अन्न भाग्य योजना भी 1 जुलाई से लागू की जाएगी। इसके तहत सभी BPL कार्डधारकों को हर व्यक्ति 10 किलो अनाज दिया जाएगा। भाजपा की सरकार में यह 5 किलो मिलता था। (Siddaramaiah Cabinet Decision)

 

वहीं गृह लक्ष्मी योजना 15 अगस्त से लागू होगी। इसके तहत परिवार की महिला मुखिया को हर महीने 2 हजार रुपए मिलेंगे। 15 जून से 15 जुलाई के बीच आवेदन मांगे गए हैं। इसी तरह युवा निधि योजना के तहत ग्रेजुएट बेरोजगार को दो साल तक 3 हजार रुपए और डिप्लोमा होल्डर्स छात्रों को डेढ़ हजार रुपए मासिक भत्ता दिया जाना है। सरकार ने इसके लिए आवेदन मंगाए हैं। हालांकि इसे कब से लागू किया जाएगा। इसकी तारीख नहीं बताई गई। 20 मई को सरकार बनने के बाद राहुल गांधी मंच पर आए थे और इन वादों को दोहराया था। (Siddaramaiah Cabinet Decision)

राहुल गांधी ने कहा था कि हमारी सरकार का शपथ ग्रहण हो चुका है। अब से थोड़ी देर बाद मुख्यमंत्री और उनकी कैबिनेट एक बैठक करेगी और इन पांचों वादों पर मुहर लगाएगी।​​​​​​​ शपथ ग्रहण समारोह खत्म होने के बाद मुख्यमंत्री सिद्धारमैया और डिप्टी CM डीके शिवकुमार मंत्रालय गए और कैबिनेट की बैठक की, जिसमें इन पांचों वादों को जून के पहले हफ्ते में लागू करने पर बात हुई थी। कर्नाटक के डिप्टी CM डीके शिवकुमार ने शुक्रवार को बेंगलुरु के विकास पर चर्चा के लिए सर्वदलीय बैठक बुलाई। वहीं प्रदेश भाजपा ने अभी तक नेता प्रतिपक्ष पर फैसला नहीं किया है। इसे लेकर कर्नाटक के पूर्व CM बसवराज बोम्मई ने पूर्व CM और भाजपा के सीनियर नेता बीएस येदियुरप्पा से मुलाकात की है। (Siddaramaiah Cabinet Decision)

Back to top button