Kanchanjunga Express Accident: कंचनजंगा एक्सप्रेस ट्रेन हादसे में अब तक 15 लोगों की हुई मौत, 60 लोग घायल, रेस्क्यू जारी

Kanchanjunga Express Accident: पश्चिम बंगाल के न्यू जलपाईगुड़ी में सिलीगुड़ी से कोलकाता जा रही कंचनजंघा एक्सप्रेस को माल गाड़ी ने पीछे से टक्कर मारी दी। हादसा निजबाड़ी स्टेशन पर हुआ। इस हादसे में अब तक 15 की मौत हो चुकी है। सूचना मिलते ही रेलवे और पश्चिम बंगाल सरकार के आला अधिकारी मौके पर पहुंचे। कंचनजंघा एक्सप्रेस की दो बोगियां पूरी तरह प्रभावित हुई हैं। घटना स्थल पर रेस्क्यू जारी है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि पश्चिम बंगाल में रेल दुर्घटना (Kanchanjunga Express Accident) दुखद है। मोदी ने एक्स पोस्ट में लिखा कि पश्चिम बंगाल में रेल दुर्घटना दुखद है। उन लोगों के प्रति संवेदना जिन्होंने अपने प्रियजनों को खो दिया। मैं प्रार्थना करता हूं कि घायल जल्द से जल्द ठीक हो जाएं।’ उन्होंने आगे लिखा कि अधिकारियों से बात की और स्थिति का जायजा लिया। प्रभावितों की सहायता के लिए बचाव अभियान जारी है। उन्होंने बताया कि रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव भी दुर्घटनास्थल पर जा रहे हैं।

यह भी पढ़े :- Chhattisgarh : सरकारी कर्मचारियों को बड़ा झटका!अब पदोन्नति में आरक्षण का लाभ नहीं मिलेगा, जारी किया आदेश…

वहीं प्रधानमंत्री कार्यालय ने बताया कि पीएम नरेंद्र मोदी ने रुपये की अनुग्रह राशि की घोषणा की है। पश्चिम बंगाल में रेल दुर्घटना में प्रत्येक मृतक के परिजनों को पीएमएनआरएफ से 2 लाख रुपये दिए जाएंगे। घायलों को 50 हजार रुपये दिए जाएंगे। रेलवे बोर्ड की अध्यक्ष और सीईओ जया वर्मा सिन्हा ने बताया कि इस घटना में मालगाड़ी के ड्राइवर और सहायक ड्राइवर और कंचनजंगा एक्सप्रेस ट्रेन के गार्ड की मौत हो गई है। उन्होंने बयाता कि रेस्क्यू ऑपरेशन पूरा। सिग्नल की अनदेखी करने वाले ड्राइवर (लोको पायलट) की मौत हो गई और कंचनजंगा एक्सप्रेस के गार्ड की भी जान चली गई। अगरतला-सियालदह मार्ग पर सभी रेलवे स्टेशनों पर हेल्प डेस्क स्थापित किए गए है।

जानकारी मुताबिक पश्चिम बंगाल में हुई ट्रेन दुर्घटना (Kanchanjunga Express Accident) में मरने वालों की संख्या बढ़कर 15 हो गई है जबकि 60 घायल हुए हैं। उत्तर सीमांत रेलवे के कटिहार मंडल के मंडल रेल प्रबंधक (डीआरएम) ने बताया कि 13174 कंचनजंगा एक्सप्रेस अगरतला से सियालदह जा रही थी तभी यह दुर्घटना हुई। उन्होंने बताया कि टक्कर के बाद एक्सप्रेस ट्रेन का एक डिब्बा अलग हो गया और मालगाड़ी के इंजन के ऊपर चढ़ गया। इस दुर्घटना पर सूबे की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी भी नजर बनाए हुए हैं। सोशल मीडिया मंच एक्स पर उन्होंने लिखा कि जिलाधिकारी, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, डॉक्टर, एंबुलेंस और आपदा टीमों की मौजूदगी में युद्धस्तर पर राहत और बचाव कार्य जारी है।

Back to top button