Trending

Chandra Grahan 2022 : साल का आखिरी चंद्र ग्रहण आज, जानें इससे जुड़ी 10 बातें

Whatsaap Strip

Chandra Grahan 2022 : 15 दिनों में दूसरा ग्रहण आज 8 नवंबर को लगने जा रहा है। यह इस साल का चौथा ग्रहण और अंतिम चंद्र ग्रहण (Chandra Grahan 2022) है। हिंदी पंचांग के अनुसार 8 नवंबर को कार्तिक पूर्णिमा भी है। यह एक खग्रास चंद्र ग्रहण (Chandra Grahan 2022) है। आइये जानें साल के आखिरी चंद्र ग्रहण से जुड़ी 10 महत्वपूर्ण बातें।

यह भी पढ़ें : 10 साल पहले के सभी आधार अपडेट करना जरूरी, नहीं करवाने पर सरकारी सुविधाओं से होंगे वंचित

Chandra Grahan 2022 से जुड़ी 10 महत्वपूर्ण बातें

1. पंचांग के मुताबिक, साल 2022 का आखिरी चंद्र ग्रहण आज यानी 8 नवंबर को भारतीय समयानुसार दोपहर 2 बजकर 41 मिनट से शुरू होकर शाम 06 बजकर 20 पर समाप्त होगा. इसका मोक्ष काल 07:25 पर रहेगा।

2. भारत में यह चंद्र ग्रहण 8 नवंबर को ही शाम 5 बजकर 53 मिनट से दिखाई देगा और शाम 6 बजकर 19 मिनट पर चंद्रास्त के साथ खत्म होगा। अर्थात भारत में यह चन्द्र ग्रहण शाम को 5 बजकर 53 पर लगेगा।

3. भारत में यह चंद्र ग्रहण चंद्रोदय के साथ लगेगा। अर्थात चंद्रमा जब भारत में दिखाई देगा तो ग्रहण से ग्रस्त रहेगा। इस लिए इसे ग्रस्तोदय चंद्रग्रहण कहेंगे।

4. इससे पहले ग्रहस्तोदय चंद्र ग्रहण (ग्रहण लगा हुआ ही चंद्रमा उदित होना) 31 जनवरी 2018 को हुआ था। यानी 58 महीने बाद अब यह ग्रहस्तोदय चंद्रग्रहण होने जा रहा है।

5. चंद्र ग्रहण भरणी नक्षत्र और मेष राशि में घटित होगा। जो इस नक्षत्र और राशि में जन्मे व्यक्तियों के लिए कष्टप्रद रहेगा।

चंद्र ग्रहण से जुड़ी 10 महत्वपूर्ण बातें

6. चंद्र ग्रहण का समय, सूतक काल : चंद्र ग्रहण का सूतक काल 9 घंटे पहले लग जाता है जो कि ग्रहण समाप्ति के साथ ही खत्म हो जाता है। 8 नवंबर 2022 को सुबह 5 बजकर 53 मिनट पर लग चूका है जोकि चंद्रास्त के साथ-साथ खत्म होगा।

7. चंद्र ग्रहण कहां-कहां नजर आएगा : भारत में यह चंद्र ग्रहण आसाम, मेघालय, सिक्किम, अरूणाचल प्रदेश, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम, त्रिपुरा, बिहार, झारखंड, पश्चिम बंगाल के अलावा भारत के पश्चिमी, उत्तरी-दक्षिणी के सभी अन्य क्षेत्रों में खंडग्रास रूप में दृश्य होगा।

8. चंद्र ग्रहण विश्व के इन देशों में दिखाई देगा: बांग्लादेश, मध्य एवं पूर्वी नेपाल, ग्रीनलैण्ड़, उत्तरी एवं दक्षिणी अमेरिका, कनाड़ा, मेक्सिको, अलास्का, अंटार्कटिका, न्यूजीलैण्ड़ की ओर का उत्तरी क्षेत्र, ऑस्ट्रेलिया, इण्डोनेसिया, मलेशिया, थाईलैण्ड़, म्यांमार, कोरिया, जापान, चीन, मंगोलिया, रूस, कजाकिस्तान, उज्बेकिस्तान, पाकिस्तान, ओमान, ईरान, अफगानिस्तान, फिनलैण्ड़, उत्तरी स्वीडन, आइसलैण्ड आदि देशों में दिखाई देगा।

यह भी पढ़ें : Most Expensive Smartphone : ये है दुनिया का सबसे महंगा स्मार्टफोन, कीमत जानकर उड़ जायेंगे होश

9. इन क्षेत्रों में पड़ेगा प्रभाव: साल के आखिरी चंद्र ग्रहण का प्रभाव भारत के भू-भाग समेत दक्षिणी/पूर्वी यूरोप, एशिया, ऑस्ट्रेलिया, उत्तरी अमेरिका, दक्षिणी अमेरिका, पेसिफिक, अटलांटिक और हिंद महासागर पर पड़ेगा।

10. इन राशियों पर होगा प्रभाव: इस चंद्र ग्रहण से कर्क, मिथुन, वृश्चिक, कुम्भ राशियों के जातकों को लाभ होगा जबकि मेष, वृष, सिंह, कन्या, तुला, धनु, मकर और मीन राशि के जातकों को नुकसान हो सकता है।

Related Articles