Trending

छत्तीसगढ़ न्यूज : भाजपा के पूर्व विधायक युद्धवीर सिंह जूदेव का निधन, कल जशपुर में होगा अंतिम संस्कार

Whatsaap Strip

रायपुर : छत्तीसगढ़ भाजपा के तेज तर्रार युवा नेता युद्धवीर सिंह जूदेव का आज सुबह दुखद निधन हो गया। युद्धवीर सिंह जूदेव का अस्पताल में इलाज चल रहा था। विगत एक महीनें से लीवर संक्रमण की गंभीर बीमारी से जूझ रहे थे। बैंगलुरू के एस्टर हास्पिटल में उन्होंने आखिरी सांस ली। मिली जानकारी के मुताबिक वे दिल्ली के इंस्टिट्यूट आफ लीवर एंड बिलिअरी साइंसेस में 15 दिनों से भर्ती थे। लेकिन स्थिति में सुधार नहीं होने के बाद उन्हें बेंगलुरू में ले जाया गया। आखिरी समय में उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया था लेकिन उन्हें बचाने में चिकित्सक सफल नहीं रहे। इलाज के दौरान आज सोमवार की सुबह 4 बजे युद्धवीर सिंह ने अस्पताल में अंतिम सांस ली।

चंद्रपुर से लगातार दो बार विधायक रहे

स्वास्थ्य खराब होने पर प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय समेत कई आला नेता दिल्ली भी उनसे हालचाल पूछने गए थे। केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भी डाक्टरों से चर्चा कर बेहतर इलाज के निर्देश भी दिए थे। स्वर्गीय दिलीप सिंह जूदेव के बेटे युद्धवीर सिंह जूदेव चंद्रपुर से लगातार दो बार विधायक रहे हैं, हालिया चुनाव में उनकी जगह उनकी पत्नी संयोगिता सिंह जूदेव को टिकट दी गई थी लेकिन भाजपा यह सीट हार गई थी। अपने प्रिय नेता जूदेव के निधन से पुरे प्रदेश में शोक की लहर है।

युद्धवीर सिंह जूदेव एक ऐसे नेता थे, जो बहुत ही बेबाक बोल के लिए विपक्ष में रहते हुए भी चर्चा में रहे। वही सत्ता में कठिन चुनौतियों का सामना करते हुए अपने राजनीतिक जीवन में एक अलग पहचान बनाई है। उन्होंने बहुत ही कम उम्र में जिला पंचायत अध्यक्ष से राजनीति की शुरुआत कर कभी मुड़कर नहीं देखने वाले युद्धवीर सिंह विधायक और संसदीय सचिव समेत कई पदों पर रह चुके हैं। छत्तीसगढ़ के चंद्रपुर विधानसभा से 2 बार विधायक रह चुके हैं, युद्धवीर सिंह जूदेव जशपुर कुमार स्व. दिलीप सिंह जूदेव के सबसे छोटे बेटे थे। युद्धवीर सिंह जूदेव के निधन से उनके समर्थकों में सन्नाटा पसरा हुआ है।

कल होगा अंतिम संस्कार

सूत्रों से जानकारी मिली हैं कि, उनका अंतिम संस्कार कल मंगलवार को जशपुर में किया जाएगा। युद्धवीर सिंह जूदेव ने अपने राजनीतिक सफर की शुरुआत जिला पंचायत जशपुर के उपाध्यक्ष के रूप में की थी। जांजगीर जिले के चंद्रपुर विधान सभा सीट से विधायक और डा. रमन सिंह मंत्री मंडल में संसदीय सचिव और छग ब्रेवरेज कारपोरेशन के अध्यक्ष पद पर भी रहे। पूर्व सांसद रणविजय सिंह जूदेव ने शोक जताया है और इसे पूरे प्रदेश के लिए बेहद दुःखद बताया है। सांसद गोमती साय ने कहा एक युग का अंत हो गया। जिला पंचायत अध्यक्ष रायमुनी भगत ने कहा हमने युवा नेतृत्व खो दिया।

Related Articles