Trending

छत्तीसगढ़ न्यूज : अंतर्राष्ट्रीय तेली दिवस पर हुई विचार गोष्ठी का आयोजन, प्रोफेसर घनाराम ने इतिहास पर प्रकाश डाला, पढ़ें पूरी खबर

Whatsaap Strip

धमतरी । छत्तीसगढ़

गणेश चतुर्थी के अवसर पर आमंत्रण हेरिटेज साहू सदन रुद्री में अंतर्राष्ट्रीय तेली दिवस मनाया गया। इस अवसर पर विघ्नहर्ता गणेश की स्थापना जिला साहू समाज धमतरी के तत्वधान में की गई। इस दिवस पर विशेष विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया जिसमें मुख्य वक्ता अतिथि के रूप में प्रो. घनाराम साहू इंजीनियरिंग कॉलेज रायपुर थे।

यह भी पढ़ें : तेली दिवस : गणेश चतुर्थी के दिन “तेली दिवस” मनाया जाना तार्किक रूप से सही..!, पढ़ें पूरी खबर

समाज के इष्ट देवी भक्त माता कर्मा, माता राजिम, तेली समाज आदि विषयों पर श्री साहू ने विस्तृत जानकारी दी। उन्होंने शास्त्र एवं इतिहास के अनुसार संकलित अध्ययन के आधार पर उपस्थित समाजजनों को को बहुत ही सुंदर सारांश जानकारी दिए।जिससे समाज के विषय में लोगों को विस्तार से जानने का अवसर मिला तथा एक दूसरे द्वारा विचार विमर्श किया गया।

उन्होंने अंतरराष्ट्रीय तेली दिवस की शुरुआत के विषय में मुख्य रूप से प्रकाश डाला बताया कि पौराणिक कथाओं में गणेश जी पुनर्जीवित होने के बाद कहानी समाप्त हो जाता है किंतु तेली समाज के विद्वान पुरखों ने इस कहानी को आगे बढ़ाकर उस व्यापारी को न्याय दिलाते हैं, जिसके हाथी का सिर काटकर गणेश जी के धड़ में जोड़ा गया था। वही व्यापारी सनातन इतिहास का प्रथम तेली बना। जिस दिन गणेश जी को पुनर्जन्म मिला उसी दिन प्रथम का भी निर्माण हुआ था इसलिए गणेश चतुर्थी के दिन ”तेली दिवस” मनाया जाना तार्किक रूप से सही है।

शिव जी ने एक मूसल और खरल यंत्र का निर्माण किया

इस तरह गणेश को हाथी का सिर प्राप्त हुआ। व्यापारी अपने हाथी के मारे जाने पर जोर-जोर से विलाप करने लगा। व्यापारी को शांत करने के लिए शिव जी ने एक मूसल और खरल यंत्र का निर्माण किया और तिलहन को चूर कर तेल निकालकर दिखाया। व्यापारी को यह आदेश किया कि भविष्य में इसी से जीवन यापन करे तथा बाद में अपने वंशजों को भी सिखाये। इस तरह से वह व्यापारी पहला तेली बना। मूसल को शिव और खरल को पार्वती का प्रतीक माना गया।”

इस आयोजन में प्रमुख रूप से सियाराम साहू सेवानिवृत्त शिक्षक, साहू समाज रुद्री के पूर्व अध्यक्ष प्यारी लाल साहू प्रदेश उपाध्यक्ष चितरंजन साहू, जिला अध्यक्ष दयाराम साहू उपाध्यक्ष श्यामा देवी साहू, महामंत्री संतराम साहू, विजय साहू, तहसील साहू समाज अध्यक्ष अवनेंद्र साहू, नरेश साहू विधायक प्रतिनिधि डीपेंद्र साहू, संगठन मंत्री गणेश प्रसाद साहू, युवा प्रकोष्ठ अध्यक्ष हिरेंद्र साहू, सांसद प्रतिनिधि उमेश साहू, नरेंद्र साहू, महामंत्री प्रवीण साहू, उपाध्यक्ष राकेश साहू, तहसील अध्यक्ष शहर यशवंत साहू, महामंत्री रामकुमार साहू, रामेश्वर गंगबेर, मीडिया प्रभारी डॉ भूपेंद्र साहू, भुजेंद्र साहू, अरुण साहू, सुनील साहू, कामता साहू, खमनलाल साहू, गजानंद साहू, ललित साहू, भरत साहू सेवानिवृत्त शिक्षक, केशव साहू, कुलदीप साहू, के.के साहू, कामदेव साहू सहित अन्य सामाजिक जन मौजूद थे।

Related Articles