गौरेला-पेंड्रा-मरवाही जिले के 222 गांव में सामुदायिक लाइब्रेरी की शुरुआत

Whatsaap Strip

रायपुर : बाल दिवस के अवसर पर गौरेला विकासखंड के ग्राम अंजनी के प्राथमिक माध्यमिक स्कूल परिसर में मरवाही के विधायक डॉ. के.के. ध्रुव ने किताब दान अभियान का शुभारंभ किया गया है। उन्होंने समारोह में उपस्थित सभी बच्चों शिक्षकों ग्रामीण जन और जिला प्रशासन के अधिकारी कर्मचारियों को किताब दान अभियान के शुभारंभ की बधाई देते हुए कहा कि इसके साथ ही जिले के 222 गांवों में यह अभियान संचालित किया जाएगा।

इसे भी पढ़े:BIG BREAKING : कांग्रेस सरकार ने पेट्रोल-डीजल की दरें घटाई, वैट टैक्स में कई गई कटौती

सामुदायिक लाइब्रेरी :

विधायक डॉ. के.के. ध्रुव ने कहा कि कोरोना के कारण पिछले काफी समय तक स्कूल बंद थे, इस दौरान सीख कार्यक्रम के द्वारा बच्चों को खेल-खेल के माध्यम से शिक्षा प्रदान की गई। उन्होंने कहा कि गांव में सामुदायिक लाइब्रेरी की शुरुआत से शैक्षणिक स्तर में और विकास किया जा सकेगा। मरवाही विधायक ने 2500 रुपए की सहयोग राशि जमा करते हुए सभी से इस अभियान में सहयोग करने की अपील की है।

इसे भी पढ़े:कार्तिक शुक्ल पक्ष में बैकुंठ चतुर्दशी का हैं विशेष महत्व, जानें पूजन विधि व कथा

कलेक्टर नम्रता गांधी ने कहा कि बच्चों के सीखने की प्रक्रिया में शिक्षक के साथ-साथ समुदाय का भी विशेष योगदान होता है इसलिए जिला प्रशासन, यूनिसेफ और समर्थ चेरिटेबल ट्रस्ट द्वारा संचालित सीख कार्यक्रम के द्वारा बच्चों को खेल-खेल के माध्यम से सिखाने का कार्य किया जा रहा है। कार्यक्रम में समुदाय के सीख मित्रों का विशेष योगदान है।

इसे भी पढ़े:मुख्यमंत्री भूपेश बघेल 20 नवम्बर को नई दिल्ली में ग्रहण करेंगे राष्ट्रपति से स्वच्छता अवार्ड

 उन्होंने कहा कि किताब दान कार्यक्रम का उद्देश्य जिले के प्रत्येक गांव में बच्चों के लिए उनकी रूचि अनुरूप ज्ञानवर्धक पुस्तकों के माध्यम से उनके शैक्षणिक स्तर को सही दिशा देना है। किताब दान अभियान के अवसर पर कलेक्टर सुश्री नम्रता गांधी द्वारा 6000 रुपए, परियोजना निदेशक आर.के. खूंटे द्वारा 6000 रुपए सहयोग राशि दी गई।

इसे भी पढ़े:ढाई साल से अधिक एक ही जगह जमे 156 पटवारियों का हुआ तबादला, देंखे सूची

इसी प्रकार अन्य विभिन्न जनप्रतिनिधि, अधिकारी कर्मचारी, मीडिया प्रतिनिधि सहित ग्रामीणजनों द्वारा सहयोग राशि प्रदान की गई है। इस अवसर पर मरवाही विधायक डॉ. के.के. ध्रुव द्वारा उपस्थित बच्चों को बिस्किट, चॉकलेट, नोट पेड, पेन इत्यादि का वितरण किया गया साथ ही सीख कार्यक्रम में विशेष योगदान देने वाले सीख मित्रों को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया

Related Articles