मॉनसून की सुस्त चाल ने बढ़ाई टेंशन, दिल्ली-यूपी जैसे राज्यों को कब मिलेगी राहत…

तेलंगाना तक मॉनसून का विस्तार हो गया है। वहीं, उत्तर पश्चिम के कई राज्यों का भीषण गर्मी से सामना जारी है।

फिलहाल, मॉनसून भी यहां देरी से आने के आसार हैं। भारत मौसम विज्ञान विभाग यानी IMD का कहना है कि अगले 4-5 दिनों के दौरान भारत के उत्तर पश्चिम और पूर्वी हिस्सों में भयंकर लू चलने के आसार हैं।

इधर, मॉनसून के बढ़ने के लिए ओडिशा समेत कुछ राज्यों में अनुकूल स्थितियां बन रही हैं।

IMD की तरफ से बुधवार रात जारी प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया है कि गंगीय पश्चिम बंगाल, बिहार, झारखंड, ओडिशा में आंधी तूफान के साथ हल्की से मध्यम बारिश के आसार हैं। मध्य प्रदेश, विदर्भ, छत्तीसगढ़ में तेज हवाओं के साथ छिटपुट बारिश हो सकती है।

जबकि, ओडिशा में 12, 13 और 16 जून को भारी बारिश की संभावनाएं जताई जा रही हैं।

कोंकण और गोवा में अगले पांच दिन और मध्य महाराष्ट्र और मराठवाड़ा में अगले दो दिनों तक बारिश के आसार हैं। कर्नाटक, केरल, माहे, लक्षद्वीप, अंडमान एंड निकोबार द्वीप समूह, तटीय आंध्र प्रदेश, यानम, रायलसीमा, तेलंगाना, तमिलनाडु, पुडुचेरी, करईकल में भी 5 दिनों में बारिश हो सकती है।

गर्मी के हाल
उत्तर प्रदेश के कई हिस्सों में 16 जून को अति भीषण गर्मी के आसार हैं। जबकि, पश्चिम बंगाल, बिहार, झारखंड को 14 जून को लू चल सकती है।

पंजाब, हरियाणा, उत्तराखंड, चंडीगढ़, दिल्ली में अगले पांच दिनों तक तेज गर्मी पड़ सकती है। पूर्वोत्तर मध्य प्रदेश, उत्तर पश्चिम राजस्थान, पूर्वोत्तर राजस्थान में 14 जून और हिमाचल प्रदेश और औडिश में गुरुवार को यह स्थिति बन सकती है।

मॉनसून की धीमी गति सताएगी
सुस्त दक्षिण-पश्चिम मॉनसून बुधवार को महाराष्ट्र के बड़े हिस्से को अपने दायरे में ले लिया, जबकि भीषण गर्मी से जूझ रहे मध्य और उत्तर भारत को अब भी मॉनसून के पहुंचने का इंतजार है।

IMD ने कहा कि मॉनसून अगले तीन से चार दिनों के दौरान ओडिशा, तटीय आंध्र प्रदेश और उत्तर-पश्चिमी बंगाल की खाड़ी तक पहुंच सकता है। एक अधिकारी ने कहा, ‘बंगाल की खाड़ी में मॉनसून कमजोर है और इसके वहां से आगे बढ़ने का इंतजार है।’

The post मॉनसून की सुस्त चाल ने बढ़ाई टेंशन, दिल्ली-यूपी जैसे राज्यों को कब मिलेगी राहत… appeared first on .

Back to top button