विश्व प्रसिद्ध तिरुपति बालाजी मंदिर की संपत्ति जानकर आप भी रह जायेंगे हैरान, सोना-कैश और क्या-क्या देखें लिस्ट

Whatsaap Strip

Tirupati Balaji : विश्व प्रसिद्ध तिरुपति बालाजी (Tirupati Balaji) मंदिर के ट्रस्ट तिरुमाला तिरुपति देवस्थानम (TTD) ने शनिवार को श्वेत पत्र जारी करते हुए बताया कि ट्रस्ट के नाम करीब 2.5 लाख करोड़ से अधिक की संपत्ति है। शनिवार को जारी श्वेत पत्र में कैश, जमा, सोना समेत अपनी संपत्ति की पूरी लिस्ट साझा की है। ट्रस्ट द्वारा दी गई जानकारी के बाद उन सभी रिपोर्टों पर पूर्णविराम लगा दिया। जिसमें TTD (Tirupati Balaji) द्वारा आंध्र प्रदेश सरकार और केंद्र सरकार के बान्ड की प्रतिभूतियों में निवेश करने की बात कही जा रही थी।

यह भी पढ़ें : चीन में बढ़ने लगे कोरोना के मामले, दुनिया की सबसे बड़ी iPhone फैक्ट्री का प्रोडक्शन हुआ प्रभावित

पहली बार Tirupati Balaji की संपत्ति का खुलासा

ट्रस्ट की तरफ से बताया गया कि बैंकों में 16,000 करोड़ रुपये के साथ-साथ 10.25 टन सोना और 2.5 टन सोने के आभूषण जमा है। ट्रस्ट ने आगे कहा कि पूरे भारत में ट्रस्ट की 960 संपत्तियां हैं। मालूम हो कि मंदिर की स्थापना के बाद यह पहली बार है जब ट्रस्ट ने संपत्तियों के बारे में खुलासा किया है।

बैंकों के ब्याज और चढ़ावे में हो रही बढ़ोतरी

मंदिर के एक अधिकारी ने कहा कि तिरुपति में भक्तों द्वारा चढ़ाए जा रहे नकद और सोने में लगातार वृद्धि हो रही है, जिसके कारण मंदिर के संपत्तियों में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। उन्होंने कहा कि बैंकों से मिलने वाले ब्याज के कारण भी यह बढ़ोतरी दर्ज की जा रही है। ट्रस्ट ने बताया कि साल 2022-23 में 3,100 करोड़ का बजट पेश किया गया था, जिसमें से 668 करोड़ रुपये तो बैंकों से मिलने वाले ब्याज के ही थे। मंदिर के अधिकारियों ने आगे कहा कि ट्रस्ट द्वारा संपत्तियों का जो विवरण दिया गया है उनमें प्राचीन आभूषणों और कुछ गेस्ट हाउस को शामिल नहीं किया गया है।

यह भी पढ़ें : EWS Quota : EWS आरक्षण पर सुप्रीम कोर्ट की मुहर, बेंच के 5 में से 3 जजों ने आरक्षण के पक्ष में सुनाया फैसला

इन कंपनियों से अधिक Tirupati Balaji की संपत्ति

शेयर बाजार के आकड़ों के मुताबिक तिरुपति मंदिर की संपत्ति भारत के कई बड़े कारोबारों से भी अधिक है। शुक्रवार को शेयर बाजार बंद होने तक विप्रो की मार्केट वैल्यू 2.14 लाख करोड़ रुपये आंकी गई थी। वहीं, अल्ट्राटेक सीमेंट का मार्केट वैल्यू 1.99 लाख करोड़ दर्ज की गई थी। इसके अलावा शुक्रवार को मल्टीनेशनल कंपनी नेस्ले की भारतीय इकाई की वैल्यू 1.96 लाख करोड़ थी।

मालूम हो कि ONGC (Oil and Natural Gas Corporation) और NTPC जैसी सरकारी कंपनियों की वैल्यूएशन भी मंदिर की संपत्तियों से कम है। सिर्फ दो दर्जन कंपनियों की वैल्यूएशन ही मंदिर ट्रस्ट की संपत्ति से अधिक है। इन कंपनियों में रिलायंस और टाटा संस शामिल है।

Related Articles