साल 2100 तक तबाह हो जायेंगे भारत के कई मुख्य शहर, ये होगी वजह

Whatsaap Strip

न्यूज़ डेस्क

अमेरिका की स्पेस एजेंसी नासा ने एक ऐसी रिपोर्ट पेश की है जिसने लोगों को डरा कर रख दिया है। नासा की रिपोर्ट के अनुसार साल 2100 में यानी आज से 80 साल बाद भारत के कई शहरों में भारी तबाही आएगी और कई मुख्य शहर 3 फ़ीट तक गहरे पानी में डूब जायेंगे। भारत में ऐसी तबाही धरती का तापमान बढ़ने से होगी, इसकी आशंका अमेरिकी स्पेस एजेंसी नासा ने अपनी एक रिपोर्ट में जताई है।

क्यों आज तक कोई नहीं कर पाया कैलाश पर्वत की चढ़ाई, पढ़ें क्या है रहस्य

ये शहर पानी में हो जायेंगे तबाह

नासा के मुताबिक ये सब ग्लोबल वॉर्मिंग के चलते ध्रुवों पर जमी बर्फ के पिघलने से होगा। नासा के अनुसार भारत के ओखा, मोरमुगाओ, भावनगर, मुंबई, मैंगलोर, चेन्नई, विशाखापट्टनम, तूतीकोरन कोच्चि, पारा दीप और पश्चिमी बंगाल के किडरोपोर तटीय इलाकों पर ग्लोबल वॉर्मिंग के असर से बर्फ के पिघलने का असर ज्यादा दिखेगा। ऐसा होता है तो भविष्य में इन इलाकों में रह रहे लोगों को यह जगह छोड़नी पड़ सकती है।

देश में जल्द लग सकेगी कोवैक्सीन और कोविशील्ड की मिक्स डोज, स्टडी में दिखे अच्छे रिजल्ट

तेजी से पारा चढ़ेगा तो पिघलेंगे ग्लेशियर

नासा की रिपोर्ट में कहा गया है कि साल 2100 तक दुनिया का तापमान काफी बढ़ जाएगा। कार्बन उत्सर्जन और प्रदूषण नहीं रोका गया तो तापमान में औसतन 4.4 डिग्री सेल्सियस की बढ़ोतरी होगी। अगले दो दशक में तापमान 1.5 डिग्री सेल्सियस तक बढ़ जाएगा। इस तेजी से पारा चढ़ेगा तो ग्लेशियर भी पिघलेंगे। इनका पानी मैदानी और समुद्री इलाकों में तबाही लेकर आएगा।