Trending

Bhagawan Vishnu: भगवान विष्णु को प्रसन्न करने के लिए करें ये उपाय

Whatsaap Strip

Bhagawan Vishnu: गुरुवार भगवान विष्णु और बृहस्पति ग्रह को समर्पित है। इस दिन व्रत करने से धन, पुत्र और विद्या की प्राप्ति होती है। पीले रंग का कपड़ा पहनने और पीली चीजों का दान करना शुभ मना जाता है। इस दिन लोग घर में सुख शांति के लिए भगवान विष्णु का व्रत भी रखते हैं। भगवान विष्णु को प्रसन्न करने के लिए भक्त सतनारायण की कथा भी करवाते हैं। इसके अलावा गुरुवार के दिन पीले कपड़े पहनना भी शुभ माना जाता है। ऐसी मान्यता है कि भगवान विष्णु भी पीले ही वस्त्र धारण करते हैं और इस दिन पीले वस्त्र धारण करने से भगवान विष्णु की विशेष कृपा बनी रहती है। वास्तु शास्त्र के मुताबिक गुरुवार को गुरु की पूजा पीले रंग के कपड़े पहनकर ही करना चाहिए। इस दिन पीले रंग का खास महत्व होता है।

यह भी पढ़ें:- Rashifal 23 June 2022: सिंह राशि जातकों को आज व्यर्थ के विवादों से दूर रहना चाहिए, जानें सभी राशियों का भविष्यफल

सौरमंडल में बृहस्पति ग्रह सबसे बड़ा ग्रह माना जाता है। शास्त्रों में इस ग्रह को देवताओं का गुरु भी कहा गया है। ऐसा माना जाता है कि अगर किसी व्यक्ति की कुंडली में बृहस्पति ग्रह मजबूत स्थिति में हो तो उस व्यक्ति की सभी समस्याएं समाप्त हो जाती हैं। हिंदू धर्म शास्त्रों में कुछ ऐसी चीजें हैं जो गुरुवार के दिन करना वर्जित माना गया है, जिसे गुरुवार के दिन नहीं करना चाहिए। हिंदू धर्म शास्त्रों में गुरुवार के दिन बाल काटना, दाढ़ी बनाना, नाखून काटना वर्जित माना गया है। ऐसा माना जाता है कि गुरुवार के दिन इन सब कामों को करने से व्यक्ति को धन से संबंधित परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है और साथ ही व्यक्ति की उन्नति में भी बाधाएं उत्पन्न होती हैं। (Bhagawan Vishnu)

साधु संतों का अपमान नहीं करना चाहिए

गुरुवार के दिन किसी भी प्रकार के लेनदेन से बचना चाहिए। उस दिन ना तो किसी व्यक्ति से कर्ज लेना चाहिए और ना ही किसी व्यक्ति को उधार पैसे देने चाहिए। ऐसा माना जाता है कि ऐसा करने से व्यक्ति के ऊपर कर्ज बढ़ने की संभावना होती है। गुरुवार के दिन जाने या अनजाने में पिता, गुरु या किसी भी साधु संतों का अपमान नहीं करना चाहिए। यह सभी देवताओं के गुरु बृहस्पति का प्रतिनिधित्व करते हैं। इसलिए इनका अपमान करने से बृहस्पति नाराज होते हैं, और व्यक्ति को तरह तरह के कष्ट उठाने पड़ सकते हैं। गुरुवार के स्वामी भगवान नारायण होते हैं, और इस दिन लक्ष्मी जी की पूजा करने से भगवान नारायण प्रसन्न होते हैं। गुरुवार के दिन लक्ष्मी नारायण की एक साथ पूजा करनी चाहिए ऐसा करने से व्यक्ति के जीवन में धन-धान्य और खुशियां आती हैं। साथ ही पति पत्नी के रिश्ते में भी अटूटता बनी रहती है। (Bhagawan Vishnu)

पीले रंग के वस्त्र धारण करके भगवान विष्णु की उपासना

मान्यताओं के मुताबिक अगर लड़का या लड़की की शादी में अड़चन आ रही है या किसी भी तरह की समस्या की वजह से शादी नहीं हो पा रही है तो लड़का वह लड़की को पीले रंग के वस्त्र धारण करके भगवान विष्णु की उपासना करनी चाहिए। इससे शादी में आ रही रुकावट तुरंत खत्म हो जाएगी और शादी के योग बनने लगेंगे। गुरुवार को देवताओं के गुरू बृहस्पति का दिन माना जाता है। इस दिन सच्चे दिल से भगवान विष्णु की पूजा करने से भक्तों के सभी कष्ट दूर होते हैं। मान्यता है कि जो भक्त भगवान विष्णु की पूजा और व्रत करते हैं उनसे मां लक्ष्मी भी प्रसन्न होती हैं और उन्हें धन-धान्य से परिपूर्ण कर देती हैं, लेकिन इस दिन जाने अनजाने किए गए कुछ काम हमारे लिए नुकसानदायक साबित हो सकते हैं। इससे धन के नाश समेत दुर्भाग्य भी आ सकता है। (Bhagawan Vishnu)

Related Articles