गुलाब का कहर: चक्रवात की चपेट में आए बेजुबान, कई जगह बारिश का दौर जारी

Whatsaap Strip

छत्तीसगढ़ न्यूज: गुलाब तूफान के असर के चलते छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा में बड़ी संख्या में पशुओं की मौत हो गई। बंगाल की खाड़ी में उठे चक्रवाती तूफान गुलाब का असर नजर आया है, छत्तीसगढ़ के बस्तर के दंतेवाड़ा, बीजापुर और सुकमा जिले में बिजली की गडग़ड़ाहट के साथ तेज बारिश जारी है।

वहीं, दंतेवाड़ा में बिजली गिरने से 25 से ज्यादा मवेशियों की मौत हो गई। दंतेवाड़ा जिले के गदापाल गांव में किसान अपने मवेशियों को चराने के लिए गए थे। सभी किसान रोज की तरह पहाड़ी इलाकों में मवेशियों को चरा रहे थे कि अचानक तेज बारिश शुरू हो गई।

किसानों ने बचाई अपनी जान

किसान बारिश से बचने इधर-उधर खड़े हो गए, लेकिन मवेशी चरते रहे। इसी बीच अचानक तेज़ गड़गड़ाहट के साथ बिजली मवेशियों पर गिरी और मौके पर ही उनकी मौत हो गई। पानी गिरने के कारण किसान तुरंत तो मौके पर नहीं पहुंच पाए, लेकिन जैसे ही पानी थोड़ा कम हुआ, सभी मौके पर गए। तब तक 25 से ज्यादा मवेशियों की जान चली गई थी।

यह भी पढ़ें : घरों में इस्तेमाल होने वाले सिलेंडरों में हो रहा है बदलाव. जानिए इसकी खूबियां

किसानों ने बताया कि उनका जीवनयापन करने के लिए उनके गाय-बैल बहुत बड़ा सहारा थे।विभाग के मुताबिक अब तूफान का प्रेशर कमजोर हो गया है, जो घटकर 6 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार पर पहुंच गया है। पहले माना जा रहा था ये 40 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से आगे बढ़ेगा। मौसम विभाग के अनुसार अगले 12 घंटे के अंदर इस तूफान के और कमजोर होने की भी संभावना है।

Related Articles