बलौदाबाजार जिले के स्वतंत्रता दिवस कार्यक्रम में हुआ बदलाव, कलेक्टर ने की कामों की समीक्षा

Whatsaap Strip

बलौदाबाजार। छत्तीसगढ़

स्वतंत्रता दिवस के नजदीक आते ही सभी जिलों में इसकी तैयारी जोरों शोरों से शुरू हो चुकी है। पर अभी भी सारे कार्यक्रम कोविड प्रोटोकॉल के नियमों को ध्यान में रखकर किया जाएगा।

छत्तीसगढ़ के बलौदाबाजार जिले में जिला स्तर में 15 अगस्त का समारोह जिला मुख्यालय बलौदाबाजार के स्पोर्टस स्टेडियम में आयोजित किया जाना प्रस्तावित था। पर अब उस स्थान में बदलाव कर नगर के बीचों बीच पं.चक्रपाणि हाई स्कूल ग्राउंड में इस कार्यक्रम का आयोजन किया जायेगा।

समारोह के लिए अफसरों को अलग-अलग कामों के लिए जिम्मेदारियां सौंपी गई है। साथ ही आज लोक निर्माण विभाग एवं पुलिस विभाग से तैयारी सम्बंधित जानकारी ली गयी।

कोविड प्रोटोकाल एवं बरसात के मौसम को ध्यान में रखते हुए बैठक सहित अन्य तमाम व्यवस्थायें सुनिश्चित करने के निर्देश दिये गये है। शासन के निर्देश पर किसी भी तरह से बच्चों के सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित नहीं होंगे।स्वतंत्रता दिवस का मुख्य समारोह सुबह 9 बजे पं.चक्रपाणि हाई स्कूल ग्राउंड में शुरू होगा। मुख्य अतिथि यहां ध्वजारोहण कर परेड की सलामी लेंगे। इसके पहले सभी सरकारी और गैर सरकारी कार्यालयों में ध्वजारोहण हो जाएगा।

संपूर्ण कार्यक्रम का अंतिम रिहर्सल 13 अगस्त को सुबह 9 बजे स्टेडियम मैदान में होगा। समारोह स्थल की साफ-सफाई,बैरिकेडिंग, शामियाना,मंच एवं माईक,पानी व्यवस्था,बैठक व्यवस्था,शांति एवं यातायात व्यवस्था,मार्च पास्ट परेड,चिकित्सा व्यवस्था आदि के लिए संबंधित अधिकारियों को जिम्मेदारी सौंपी गई। बैठक के दौरान जिला पंचायत सीईओ डॉ फरिहा आलम सिद्की,डीएफओ के आर बढ़ई, सँयुक्त कलेक्टर टेकचंद अग्रवाल सहित समस्त विभागों के जिला प्रमुख,सभी सीएमओ एवं जनपद सीईओ उपस्थित रहें।

कलेक्टर ने की सरकारी कामों की समीक्षा

कलेक्टर सुनील कुमार जैन ने आज संयुक्त जिला कार्यालय के सभागार में समय सीमा के तहत विभागीय कार्यो की काम काज की समीक्षा भी की।

इस दौरान विभागवार लंबित आवेदनों के बारे में भी जानकारी ली। उन्होंने सभी विभागों के प्रमुखों से कहा कि आप सभी आवेदन जो आम जनता के द्वारा मुख्यमंत्री जन चौपाल,कलेक्टर शिकायत शाखा,सीपी ग्राम्स,जन शिकायत पीजीएन एवं लोक सेवा गारंटी आदि के माध्यम से प्राप्त हुए हैं। उनका निराकरण कर जिला कार्यालय को शीघ्र सूचित करें। सभी आवेदनों का निराकरण निर्धारित समय सीमा के भीतर ही हो जाना चाहिए साथ ही इस दौरान उन्होंने राज्य सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता वाले कार्यक्रमों एवं योजनाओं पर विशेष ध्यान देने कहा हैं।

उन्होंने आज विशेषकर आत्मानंद इंग्लिश मीडियम स्कूल निर्माण की प्रगति,गौधन न्याय योजना,वर्मी कंपोस्ट उत्पादन एवं विक्रय, चारागाह विकास, धान उठाव, जैव विविधता बोर्ड हेतु जानकारी, श्रम विभाग के द्वारा प्रवासी मजदूरों की ऑनलाइन पोर्टल में दर्ज की जाने वाली जानकारी सहित जल जीवन मिशन के अंतर्गत स्कूलों एवं आंगनबाड़ी केंद्रों में रनिग जल कनेक्शन स्थिति की समीक्षा की।

Related Articles