गाजा के अस्पताल पर इजरायल का हवाई हमला, 500 लोगों की मौत, इजराइल ने कहा – नहीं किया अटैक

Israel Hamas War: गाजा के अस्पताल में हुए हमले में करीब 500 लोग मारे गए हैं, ये दावा हमास के स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से किया गया है. अस्पताल परिसर में वो लोग मौजूद थे जो पहले से घायल और विस्थापित थे. उन्होंने कहा कि इजरायल की तरफ से हुए हमले के बाद लोगों में काफी गुस्सा है.

यह भी पढ़े :- छत्तीसगढ़ में पहले चरण के लिए अब तक 23 नामांकन पत्र दाखिल, 7 नवंबर को 20 सीटों पर होगा मतदान

वहीं इजरायल वॉर रूम ने अस्पताल पर हमले से इनकार करते हुए कहा कि ये हमला इजरायल ने नहीं किया बल्कि ये हमास के मिसफायर का नतीजा है. सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म X पर इजरायल वॉर रूम ने कहा कि गाजा शहर के बैपटिस्ट अस्पताल में बड़े पैमाने पर लोगों के मोत और घायल होने की घटना हमास द्वारा की गई रॉकेट की गलत लॉन्चिंग की वजह से हुई. (Israel Hamas War)

इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने कहा कि, “पूरी दुनिया को पता होना चाहिए कि गाजा के बर्बर आतंकवादियों ने ही गाजा के अस्पताल पर हमला किया था, IDF ने नहीं.” बेंजामिन नेतन्याहू ने कहा, “जिन लोगों ने इजरायल के बच्चों की बेरहमी से हत्या की, उन्होंने अपने बच्चों की भी हत्या कर दी.”

अल-अहली अस्पताल की तस्वीरों में अस्पताल के हॉल में आग लगी हुई, शीशे टूटे हुए और पूरे क्षेत्र में शरीर के अंग बिखरे हुए दिखाई दे रहे हैं। मंत्रालय ने कहा कि कम से कम 500 लोग मारे गये हैं, हालांकि इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं हो सकी है। इस बीच हमास ने बयान जारी कर इसे युद्ध अपराध करार दिया है।

गाजा शहर के कई अस्पताल सैकड़ों लोगों के लिए शरणस्थल बन गए हैं, उन्हें उम्मीद है कि इजरायल द्वारा शहर और आसपास के इलाकों के सभी निवासियों को दक्षिणी गाजा पट्टी में खाली करने के आदेश के बाद उन्हें बमबारी से बचाया जाएगा। इजरायली सैन्य प्रवक्ता रियर एडमिरल डैनियल हगारी ने कहा कि अस्पताल में हुई मौतों पर अभी भी कोई जानकारी नहीं है। हम जानकारी प्राप्त करेंगे और जनता को अपडेट करेंगे। मैं यह कहना नहीं जानता कि यह इजरायली हवाई हमला था या नहीं।

हमास ने हमले को युद्ध अपराध बताया है

गाजा में हमास सरकार के मीडिया कार्यालय ने गाजा पट्टी के अस्पताल पर हमले को “युद्ध अपराध” कहा है। एक बयान में कहा गया है कि अस्पताल में सैकड़ों बीमार और घायल लोग थे और अन्य हवाई हमलों के परिणामस्वरूप जबरन अपने घरों से विस्थापित हुए लोग थे। बयान में कहा गया है, “सैकड़ों पीड़ित अभी भी मलबे के नीचे हैं।

इजरायल ने मंगलवार को दक्षिणी गाजा के कई इलाकों में बमबारी की। इन हमलों में भी कई लोग मारे गए हैं। इजरायल ने कहा कि हमला हमास चरमपंथियों को लक्षित था, जिसका इस क्षेत्र पर शासन है। पिछले हफ्ते इजरायल पर किये गए हमास के बर्बर हमले के बाद से गाजा में पानी, ईंधन या खाद्यान्नों की आपूर्ति नहीं की जा रही। वहीं, मध्यस्थों को क्षेत्र में परेशान लाखों नागरिकों, सहायता समूहों और अस्पतालों को राहत सहायता मुहैया करने के लिए गतिरोध तोड़ने में संघर्ष करना पड़ रहा है। अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन क्षेत्र का दौरा करने के लिए तैयार हैं। वह और विश्व के अन्य नेता युद्ध को एक व्यापक क्षेत्रीय संघर्ष में तब्दील होने से रोकने की कोशिश कर रहे हैं। (Israel Hamas War)

Back to top button