समाज सुधारक संत श्री कबीर प्राकट्य दिवस पर 22 जून को “सुनो भाई साधो” संध्या भजन का भव्य आयोजन

Suno Bhai sadho: कला परंपरा और कला बिरादरी महासमुन्द के तत्वावधान में ज्येष्ठ पूर्णिमा, शनिवार, 22 जून 2024 को समाज सुधारक, भक्त, कवि और संत श्री कबीर प्राकट्य दिवस पर ‘सुनो भाई साधो’ संध्या भजन का भव्य आयोजन किया जाएगा। इस कार्यक्रम का उद्देश्य संत कबीर की शिक्षाओं और उनके संदेशों का प्रसार करना है, जिससे समाज में समरसता और सद्भावना को प्रोत्साहित किया जा सके। इस विशेष आयोजन में विभिन्न क्षेत्रों के गणमान्य अतिथियों और सांस्कृतिक हस्तियों की उपस्थिति रहेगी।

यह भी पढ़े :- अब UGC-NET में हुई गड़बड़ी, परीक्षा रद्द, CBI करेगी मामले की जाँच

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि और गायन की प्रस्तुति डॉ. चितरंजन कर, रायपुर द्वारा होंगे। अध्यक्षता डॉ. डी. पी. देशमुख, प्रांताध्यक्ष कला परंपरा, भिलाई करेंगे।

इस अवसर पर प्रमुख वक्ता के रूप में अरविंद मिश्रा, संयोजक इन्टैक छत्तीसगढ़, रायपुर, अपने विचार प्रस्तुत करेंगे। विशेष अतिथियों में हुकूम शर्मा- वरिष्ठ गायक और संगीतकार, महासमुन्द और डॉ. दीनदयाल साहू- प्रांताध्यक्ष ‘सिरजन’ भिलाई, दुर्ग शामिल होंगे।

कार्यक्रम के संरक्षण का दायित्व समाजसेवी दाऊलाल चन्द्राकर द्वारा निभाया जाएगा, जबकि मार्गदर्शी सहयोग वरिष्ठ कवि एवं साहित्यकार अशोक शर्मा का रहेगा।

कार्यक्रम का संचालन रुपेश तिवारी- वरिष्ठ कवि, बागबाहरा द्वारा किया जाएगा। कार्यक्रम दोपहर 3 बजे स्वाध्याय केन्द्र, कचहरी चौक, मिनी स्टेडियम मार्ग, महासमुन्द में आयोजित होगा।

कला परंपरा व कला बिरादरी, महासमुन्द के अध्यक्ष बन्धु राजेश्वर खरे ने सभी सम्मानित नागरिकों को इस आयोजन में सादर आमंत्रित किया है, जिससे कि वे संत कबीर की अमर वाणी और उनके सन्देश का लाभ उठा सकें।

उन्होंने कहा, यह आयोजन समाज में संत कबीर की शिक्षाओं का प्रचार-प्रसार करने और सामुदायिक एकता को सुदृढ़ करने के उद्देश्य से आयोजित किया जा रहा है। सभी श्रद्धालुओं और कला प्रेमियों से इस सांस्कृतिक कार्यक्रम में शामिल होने की अपील की जाती है।

Back to top button