छत्तीसगढ़ में बेमेतरा हादसे को लेकर राजनीति, डिप्टी CM साव ने कांग्रेस पर लगाया आरोप

Politics on Bemetara Accident: बेमेतरा के बोरसी स्थित बारूद फैक्ट्री में हुए ब्लास्ट को लेकर राजनिति होने लगी है। पूर्व CM भूपेश बघेल ने ट्वीट कर सरकार से सवाल किए हैं। उन्होंने पूछा कि बेमेतरा ब्लास्ट में किसकी “गारंटी” और किसके “सुशासन” में गुनेहगारों को संरक्षण दिया जा रहा है? सत्ता के किस करीबी को बचाने का प्रयास? 

जवाब तो देना होगा-

  1. 48 घंटे बाद भी घटना की अब तक FIR क्यों नहीं?
  2. क्या प्रशासन ने फैक्ट्री प्रबंधन से पूछा है कि घटना वाले दिन कितने मजदूर वहां काम पर गए थे?
  3. अब तक कितने मजदूर लापता हैं, क्योंकि प्रशासन के 8 लोगों के दावे को तो ग्रामीण नकार रहे हैं।
  4. क्षमता से अधिक रखी विस्फोटक सामग्री को क्यों निकाला जा रहा है? जांच में विस्फोटक सामग्री की क्या मात्रा दर्ज की जाएगी?
  5. प्रशासन ने मृतकों के परिजनों को जो मुआवज़ा देने की घोषणा की है उसे तो लेने से ग्रामीणों ने इनकार कर दिया है। क्या प्रशासन मुआवजा बढ़ाएगा?

पूर्व CM ने कहा कि इस दिल दहलाने वाली घटना में मृतकों के शरीर के चीथड़े उड़ गए हैं। शरीर के अंगों को पॉलीथिन में जमा करके DNA जांच के लिए भेजा गया है, लेकिन इतने भयावह हादसे के बाद अब तक FIR दर्ज नहीं हुई है। सवालों के जवाब तो देने होंगे। वहीं PCC चीफ दीपक बैज ने प्रदेश सरकार पर निशाना साधा है। साथ ही कहा है कि सरकार अब तक मृतकों की संख्या जारी नहीं कर पाई है। दोषियों पर FIR दर्ज भी नहीं हुई है। PCC चीफ बैज ने घटना के लिए राज्य सरकार को दोषी ठहराया है। उन्होंने कहा फैक्ट्री में मापदंड का पालन किया जा रहा था या नहीं इसकी जांच होनी चाहिए थी। 

यह भी पढ़ें:- छत्तीसगढ़ कांग्रेस ने EVM पर फिर उठाए सवाल, साव ने कहा- लोकतंत्र को बदनाम कर रहे विपक्षी दल

वहीं बैज ने कहा सरकार शोक संवेदना व्यक्त करने के आलावा कुछ नहीं कर पा रही है। उन्होंने हादसे में जान गंवाने वाले लोगों के परिजनों को 50-50 लाख और घायलों को 10-10 लाख देने की मांग साय सरकार से की है। डिप्टी CM अरुण साव ने PCC चीफ दीपक बैज के घटना को लेकर सवाल उठाने पर पलटवार किया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस जब से सत्ता से बाहर हुई है तब से हर बात पर प्रश्न चिन्ह उठा रही है। नक्सलवाद पर प्रश्न चिन्ह उठाने के बाद बेनकाब हुए। अब बेमेतरा जिले में हुए बारूद फैक्ट्री में दुर्भाग्यजनक घटना पर राजनीति कर रहे हैं। कल उनकी जांच दल मौके पर गई थी, जिन्हें जिला प्रशासन ने पूरा सहयोग किया। प्रशासन मुस्तैद है, जो राहत बचाव कार्य में जुटे हैं। (Politics on Bemetara Accident)

सेना की ली जा रही मदद: साव 

डिप्टी CM साव ने कहा कि सेना और विशेषज्ञों की टीम से मदद ली जा रही है। मलबे को हटाने का काम लगातार चल रहा है। घटना को लेकर जांच की जाएगी, जो भी दोषी पाया जाएगा उस पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाएगी। देश की सेना, सुरक्षा और दुर्भाग्यजनक घटनाओं पर प्रश्न चिह्न उठाना कांग्रेस पार्टी की आदत रही है। वहीं डिप्टी CM अरुण साव के बयान पर पूर्व कैबिनेट मंत्री शिव कुमार डहरिया ने पलटवार किया है। उन्होंने कहा कि बेमेतरा में हुई घटना में बहुत लोग मारे गए हैं, जो कमियां है उस पर क्या कांग्रेस अब बोले भी नहीं। भारत में प्रजातंत्र है, जहां सभी को बोलने का अधिकार है, लेकिन भाजपा किसी को बोलने नहीं देना चाहती है। (Politics on Bemetara Accident)

Related Articles

Back to top button