Sariya Cement: फिर सस्ता हुआ सरिया, सीमेंट के दामों में भी गिरावट, जानिए ताजा रेट

Whatsaap Strip

Sariya Cement: सरिया और सीमेंट की कीमतों में लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है। सरिया की बात करें बीते दो-तीन महीने में इसका भाव कम हो गया है। इस हफ्ते भी सरिया के भाव में 1,100 रुपये प्रति टन तक की गिरावट आई है। इसके अलावा सीमेंट से लेकर ईंट और बालू की कीमतें भी काफी कम हो गई हैं। लोहा कारोबारियों के मुताबिक केंद्र सरकार के फैसले से सरिया के दाम 20 फीसदी तक गिरेंगे, जिससे 75 रुपये किलो बिकने वाली सरिया जल्द 60 रुपये किलो तक पहुंचने की उम्मीद है। सीमेंट की कीमत कम करने के लिए लॉजिस्टिक्स का सहारा लिया जा रहा है।

यह भी पढ़ें:- Health Care: दूषित जल के संपर्क में आने से हो सकती है दाद, खाज, खुजली की समस्या, इस तरह करें बचाव

वहीं ढुलाई का कॉस्ट कम हुआ है, जो लगभग सभी चीजों के दाम कम करने में मददगार साबित हो रहा है। इनके अलावा भी कुछ फैक्टर अनुकूल हैं। बारिश का मौसम शुरू होते ही निर्माण कार्यों में कमी आने लगती है, जिससे बिल्डिंग मटीरियल्स की डिमांड खुद ही कम होने लगती है। बिल्डिंग मटेरियल के सामान से लेकर मजदूरों की कम लागत में घर तैयार हो जाएगा। (Sariya Cement)

सीमेंट के दामों में गिरावट

सीमेंट के दामों में लगातार गिरावट आ रही है। प्रिज्म सीमेंट जहां 420 प्रति बैग मिलती थी अब वह 380 हो गई है। वहीं अल्ट्राटेक सीमेंट 410 वाली बैग 375 में मिलने लगी है। बिरला सम्राट 370 एमपी बिरला परफेक्ट 390 मिल रही है। ये सभी सीमेंट के रेट MP के कई जिलों में उपलब्ध है। बता दें कि कुछ दिनों से सरिया की कीमतों में इजाफा होना फिर से शुरू हो गया। ऐसे घर बनवाने वालों के पास सस्ते रेट में निर्माण में इस्तेमाल होने वाली वस्तुओं को खरीदने का बहुत कम समय बचा है, क्योंकि कहा जा रहा है कि निर्माण सामग्री के दामों में एक बार फिर इजाफा होना शुरू हो सकता है। (Sariya Cement)

सीमेंट सरिया के दामों में हो सकती है बढ़ोतरी

जानकारों का कहना है कि फिलहाल मार्च-अप्रैल की तुलना में भवन निर्माण सामग्री की कीमतें कम हैं। ऐसे में जरूरतमंद लोग घर बनवाने के लिए खरीदारी कर लें वरना आने वाले समय में मांग बढ़ने के बाद कीमतों में इजाफा होना तय है। दरअसल, पिछले कुछ समय से निर्माण सामग्री की मांग बढ़ी है, जिससे इनके दामों में इजाफा होने का खतरा भी है। जानकारों की मानें तो सीमेंट, ईंट और सरिए के दामों में इजाफा होने लगे तो यह कोई आश्चर्य की बात नहीं है, क्योंकि निर्माण सामग्री की मांग बढ़ने लगी है। ऐसे में बाजार की अवधारणा के अनुसार इनकी कीमतों बढ़ सकती हैं। मार्च में कुछ जगहों पर सरिए का भाव 85 हजार रुपये टन तक पहुंच गया था। अभी यह शहर के हिसाब से 46,300 रुपये से लेकर 57,000 रुपये प्रति टन तक के भाव में मिल रहा है।

हिस्सों में बढ़े सरिया के दाम

जून महीने में ही सरिए कीमतों में दिल्ली-NCR समेत कई राज्यों में 3000 रुपये प्रति टन तक कीमत बढ़ चुकी है। सरिया की कीमतें 1000 तक बढ़ी है, जबकि सीमेंट के दाम में भी 10-15 रुपये प्रति बोरी तक बढ़ी हैं। बावजूद इसके सरिया की कीमतें 50 हजार रुपये प्रति क्विंटल के नीचे के स्तर पर ही हैं। सीमेंट के दाम भी बढ़े सरिये की तरह सीमेंट की कीमतें भी बढ़ रही हैं। पिछले कुछ दिनों के दौरान ही सीमेंट के दामों में 10-20 रुपये प्रति बोरी दाम बढ़ चुके हैं। बावजूद इसके ये कीमतें मार्च-अप्रैल की तुलना में अब भी कम हैं। यहां पर बता दें कि निर्माण सामग्री की कीमतें मार्च-अप्रैल में चरम पर थीं, लेकिन इसके बाद इनमें गिरावट आई। वहीं, एक बार फिर इनकी कीमतों में इजाफा शुरू हो गया है।

आधा से कम हुए सरिया के दाम

बता दें कि सरिया अभी भी दो-तीन महीने पहले की तुलना में करीब आधा ही है। मार्च में कुछ जगहों पर सरिये का भाव 85 हजार रुपये टन तक पहुंच गया था। खास बात यह है की अभी यह शहर के हिसाब से 46,300 रुपये से लेकर 57,000 रुपये प्रति टन तक के भाव में मिल रहा है। इस महीने के पहले सप्ताह में तो यह कम होकर कई जगहों पर 44 हजार रुपये टन के पास आ गया था। सिर्फ लोकल ही नहीं बल्कि ब्रांडेड सरिये का भाव भी पिछले कुछ महीनों में काफी कम हुआ है। अभी ब्रांडेड सरिये का भाव कम होकर 80-85 हजार रुपये प्रति टन चल रहा है, जो मार्च 2022 में 01 लाख रुपये प्रति टन के पास पहुंच गया था। (Sariya Cement)

Related Articles