जनचौपाल में शिकायतों और समस्याओं को लेकर उमड़ी भीड़, कलेक्टर-एसपी ने की ग्रामीणों से मुलाकात

Whatsaap Strip

बलौदाबाजार : लगभग डेढ़ साल के अंतराल के बाद आयोजित पहली जिला स्तरीय जन-चौपाल में बड़ी संख्या में लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी। कलेक्टर सुनील कुमार जैन एवं एसपी आई. के. ऐलिसेला ने पूरे दो घण्टे तक जनचौपाल में बैठकर एक-एक ग्रामीणों से सीधे मुलाकात कर उनसे आवेदन लिया और उन्हें सार्थक निराकरण का भरोसा दिलाया। चौपाल में आज विभिन्न मांगों और समस्याओं से संबंधित 55 आवेदन प्राप्त हुए।

इसे भी पढ़े:कोरोना के नए मामले 266 दिनों में सबसे कम; एक्टिव केसों में भी रिकॉर्ड गिरावट

कलेक्टर ने मौके पर मौजूद वरिष्ठ अधिकारियों को उनका आवेदन सौंपते हुए निराकरण के सख्त निर्देश दिये। पलारी तहसील के ग्राम टीला निवासी श्रवण बाधित महिला लक्ष्मी ध्रुव को मौके पर ही श्रवण यंत्र दिलाया गया। मितानीन का काम करने वाली लक्ष्मी सोची भी नहीं थी कि आवेदन देने के तत्काल बाद सुनने का यंत्र मिल पायेगा।

जनचौपाल में शिकायतों और समस्याओं को लेकर उमड़ी भीड़, कलेक्टर-एसपी ने की ग्रामीणों से मुलाकात बलौदाबाजार : लगभग डेढ़ साल के अंतराल के बाद आयोजित पहली जिला स्तरीय जन-चौपाल में बड़ी संख्या में लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी। कलेक्टर सुनील कुमार जैन एवं एसपी आई. के. ऐलिसेला ने पूरे दो घण्टे तक जनचौपाल में बैठकर एक-एक ग्रामीणों से सीधे मुलाकात कर उनसे आवेदन लिया और उन्हें सार्थक निराकरण का भरोसा दिलाया। चौपाल में आज विभिन्न मांगों और समस्याओं से संबंधित 55 आवेदन प्राप्त हुए। कलेक्टर ने मौके पर मौजूद वरिष्ठ अधिकारियों को उनका आवेदन सौंपते हुए निराकरण के सख्त निर्देश दिये। पलारी तहसील के ग्राम टीला निवासी श्रवण बाधित महिला लक्ष्मी ध्रुव को मौके पर ही श्रवण यंत्र दिलाया गया। मितानीन का काम करने वाली लक्ष्मी सोची भी नहीं थी कि आवेदन देने के तत्काल बाद सुनने का यंत्र मिल पायेगा। कलेक्टर के निर्देश पर समाज कल्याण विभाग ने तत्काल श्रवण यंत्र प्रदान किये। श्रवण यंत्र लगाकर लक्ष्मी सामान्य जनों की भांति कलेक्टर एवं अधिकारियों से बातचीत की। इस अवसर पर जिला पंचायत सीईओ फरिहा आलाम सिद्धिकी, अपर कलेक्टर राजेन्द्र गुप्ता सहित जिला स्तरीय वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे। जन-चौपाल में बलौदाबाजार में एमएससी की पढ़ाई करने वाली अनुसूचित जाति की रजवन्तीन सागर ने पोस्ट मेट्रिक हॉस्टल में प्रवेश दिलाने का आवेदन दिया। उन्होंने कलेक्टर को बताया कि 50 किलोमीटर दूर ग्राम सुन्द्री स की रहने वाली है। डी.के.कॉलेज में एमएससी रसायन में प्रथम सेमेस्टर में पढ़ रही है। कलेक्टर ने सहायक आयुक्त आदिवासी विभाग को उनका आवेदन भेजकर आवश्यक कार्रवाई करने के निर्देश दिये। कसडोल तहसील के ग्राम कुशगढ़ से आये ग्रामीणों और पालकों के प्रतिनिधि मण्डल ने कलेक्टर से मुलाकात कर शाला में अतिरिक्त शिक्षक की मांग की। उन्होंने बताया कि मिडिल स्कूल में एकमात्र शिक्षक के चलते बच्चों की पढ़ाई प्रभावित हो रही है। जिला शिक्षा अधिकारी को परीक्षण कर आवश्यक इंतजाम करने कहा गया है। अमेरा के वर्तमान पंचों एवं ग्रामीणों ने वार्ड नम्बर 11 एवं 12 में पूर्व में स्वीकृत हो चुके सीसी रोड का निर्माण शुरू कराने के लिए कलेक्टर को आवेदन दिया। उन्होने बताया कि पूर्व सरंपंच एवं सचिव द्वारा इस मद की राशि निकाली जा चुकी है। कलेक्टर ने मुख्यमंत्री ग्राम सड़क योजना के ईई को मामले की जांच कर प्रतिवेदन प्रस्तुत करने के निर्देश दिये हैं। रावन निवासी गोपाल यदु ने आरटीओ विभाग में प्रदूषण को पंजीकृत एवं सत्यापन कराने के लिए आवेदन दिया। स्वरोजगार ऋण योजना के अंतर्गत उन्होंने प्रदूषण जांच वाहन खरीदी है। कलेक्टर ने आरटीओ को जल्द कार्यवाही कर आवेदक को सूचित करने कहा है। सुहेला तहसील के ग्राम बिटकुली निवासी भगेला राम ने अपने खेत तक पहुंचने के लिए रास्ता खुलवाने का आवेदन दिया। कलेक्टर ने उनके आवेदन को टीएल में रखते हुए भगेला राम को खेत तक पहुंचने के लिए रास्ता दिलवाने के निर्देश दिए हैं। कसडोल तहसील के ग्राम डोंगरीडीह निवासी साहेबलाल केंवट ने अपने गुमशुदा पिता के स्थान पर पुश्तैनी जमीन पर नाम दर्ज करने के लिए दरख्वास्त दिया। उन्होंने बताया कि लगभग 20 साल पूर्व से उनके पिता घर से बाहर कहीं चले गये हैं। इससे धान बेचने में परेशानी हो रही है। कलेक्टर ने एसडीएम कसडोल को आवश्यक कार्रवाई करने को कहा है। सिमगा तहसील के ग्राम हथबंद के ग्रामीणों और पंचों ने पंचायत सचिव एवं रोजगार सहायक को हटाने के लिए आवेदन दिया। उनकी कार्यप्रणाली शासन के नियम-कायदों के विपरित है। कलेक्टर ने जिला पंचायत सीइओ को जांच कर आवश्यक कार्रवाई करने कहा है। आयुर्वेद चिकित्सक डॉ. आर.के.बंजारे की सेवायें जिला अस्पताल के आयुष विंग में यथावत बनाये रखने के लिए इलाजरत मरीजों ने आवेदन किया है। कलेक्टर ने इसे गंभीरता से लेते हुए स्वास्थ्य विभाग को आवश्यक कार्रवाई के निर्देश दिये। पन्द्रहवें वित्त की राशि में गड़बड़ी का आरोप कोहरौद के वर्तमान स्थानापन्न सरपंच पर लगाया गया है। कलेक्टर ने मामले की गंभीरता को देखते हुए इसकी जांच के निर्देश जिला पंचायत सीईओ को दिये हैं।

कलेक्टर के निर्देश पर समाज कल्याण विभाग ने तत्काल श्रवण यंत्र प्रदान किये। श्रवण यंत्र लगाकर लक्ष्मी सामान्य जनों की भांति कलेक्टर एवं अधिकारियों से बातचीत की। इस अवसर पर जिला पंचायत सीईओ फरिहा आलाम सिद्धिकी, अपर कलेक्टर राजेन्द्र गुप्ता सहित जिला स्तरीय वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

जन-चौपाल में बलौदाबाजार में एमएससी की पढ़ाई करने वाली अनुसूचित जाति की रजवन्तीन सागर ने पोस्ट मेट्रिक हॉस्टल में प्रवेश दिलाने का आवेदन दिया। उन्होंने कलेक्टर को बताया कि 50 किलोमीटर दूर ग्राम सुन्द्री स की रहने वाली है। डी.के.कॉलेज में एमएससी रसायन में प्रथम सेमेस्टर में पढ़ रही है। कलेक्टर ने सहायक आयुक्त आदिवासी विभाग को उनका आवेदन भेजकर आवश्यक कार्रवाई करने के निर्देश दिये। कसडोल तहसील के ग्राम कुशगढ़ से आये ग्रामीणों और पालकों के प्रतिनिधि मण्डल ने कलेक्टर से मुलाकात कर शाला में अतिरिक्त शिक्षक की मांग की। उन्होंने बताया कि मिडिल स्कूल में एकमात्र शिक्षक के चलते बच्चों की पढ़ाई प्रभावित हो रही है। जिला शिक्षा अधिकारी को परीक्षण कर आवश्यक इंतजाम करने कहा गया है।

इसे भी पढ़े:सड़क दुर्घटना: स्कूल से लौट रहे दूसरी के छात्र को कार ने कुचला, मौके पर मौत

अमेरा के वर्तमान पंचों एवं ग्रामीणों ने वार्ड नम्बर 11 एवं 12 में पूर्व में स्वीकृत हो चुके सीसी रोड का निर्माण शुरू कराने के लिए कलेक्टर को आवेदन दिया। उन्होने बताया कि पूर्व सरंपंच एवं सचिव द्वारा इस मद की राशि निकाली जा चुकी है। कलेक्टर ने मुख्यमंत्री ग्राम सड़क योजना के ईई को मामले की जांच कर प्रतिवेदन प्रस्तुत करने के निर्देश दिये हैं।

रावन निवासी गोपाल यदु ने आरटीओ विभाग में प्रदूषण को पंजीकृत एवं सत्यापन कराने के लिए आवेदन दिया। स्वरोजगार ऋण योजना के अंतर्गत उन्होंने प्रदूषण जांच वाहन खरीदी है। कलेक्टर ने आरटीओ को जल्द कार्यवाही कर आवेदक को सूचित करने कहा है।

इसे भी पढ़े:छत्तीसगढ़ को मिलेगी एक और जंगल सफारी, इतने करोड़ रूपए की लागत से 3 साल में बनकर होगा तैयार

सुहेला तहसील के ग्राम बिटकुली निवासी भगेला राम ने अपने खेत तक पहुंचने के लिए रास्ता खुलवाने का आवेदन दिया। कलेक्टर ने उनके आवेदन को टीएल में रखते हुए भगेला राम को खेत तक पहुंचने के लिए रास्ता दिलवाने के निर्देश दिए हैं। कसडोल तहसील के ग्राम डोंगरीडीह निवासी साहेबलाल केंवट ने अपने गुमशुदा पिता के स्थान पर पुश्तैनी जमीन पर नाम दर्ज करने के लिए दरख्वास्त दिया। उन्होंने बताया कि लगभग 20 साल पूर्व से उनके पिता घर से बाहर कहीं चले गये हैं। इससे धान बेचने में परेशानी हो रही है। कलेक्टर ने एसडीएम कसडोल को आवश्यक कार्रवाई करने को कहा है।

जनचौपाल में शिकायतों और समस्याओं को लेकर उमड़ी भीड़, कलेक्टर-एसपी ने की ग्रामीणों से मुलाकात बलौदाबाजार : लगभग डेढ़ साल के अंतराल के बाद आयोजित पहली जिला स्तरीय जन-चौपाल में बड़ी संख्या में लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी। कलेक्टर सुनील कुमार जैन एवं एसपी आई. के. ऐलिसेला ने पूरे दो घण्टे तक जनचौपाल में बैठकर एक-एक ग्रामीणों से सीधे मुलाकात कर उनसे आवेदन लिया और उन्हें सार्थक निराकरण का भरोसा दिलाया। चौपाल में आज विभिन्न मांगों और समस्याओं से संबंधित 55 आवेदन प्राप्त हुए। कलेक्टर ने मौके पर मौजूद वरिष्ठ अधिकारियों को उनका आवेदन सौंपते हुए निराकरण के सख्त निर्देश दिये। पलारी तहसील के ग्राम टीला निवासी श्रवण बाधित महिला लक्ष्मी ध्रुव को मौके पर ही श्रवण यंत्र दिलाया गया। मितानीन का काम करने वाली लक्ष्मी सोची भी नहीं थी कि आवेदन देने के तत्काल बाद सुनने का यंत्र मिल पायेगा। कलेक्टर के निर्देश पर समाज कल्याण विभाग ने तत्काल श्रवण यंत्र प्रदान किये। श्रवण यंत्र लगाकर लक्ष्मी सामान्य जनों की भांति कलेक्टर एवं अधिकारियों से बातचीत की। इस अवसर पर जिला पंचायत सीईओ फरिहा आलाम सिद्धिकी, अपर कलेक्टर राजेन्द्र गुप्ता सहित जिला स्तरीय वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे। जन-चौपाल में बलौदाबाजार में एमएससी की पढ़ाई करने वाली अनुसूचित जाति की रजवन्तीन सागर ने पोस्ट मेट्रिक हॉस्टल में प्रवेश दिलाने का आवेदन दिया। उन्होंने कलेक्टर को बताया कि 50 किलोमीटर दूर ग्राम सुन्द्री स की रहने वाली है। डी.के.कॉलेज में एमएससी रसायन में प्रथम सेमेस्टर में पढ़ रही है। कलेक्टर ने सहायक आयुक्त आदिवासी विभाग को उनका आवेदन भेजकर आवश्यक कार्रवाई करने के निर्देश दिये। कसडोल तहसील के ग्राम कुशगढ़ से आये ग्रामीणों और पालकों के प्रतिनिधि मण्डल ने कलेक्टर से मुलाकात कर शाला में अतिरिक्त शिक्षक की मांग की। उन्होंने बताया कि मिडिल स्कूल में एकमात्र शिक्षक के चलते बच्चों की पढ़ाई प्रभावित हो रही है। जिला शिक्षा अधिकारी को परीक्षण कर आवश्यक इंतजाम करने कहा गया है। अमेरा के वर्तमान पंचों एवं ग्रामीणों ने वार्ड नम्बर 11 एवं 12 में पूर्व में स्वीकृत हो चुके सीसी रोड का निर्माण शुरू कराने के लिए कलेक्टर को आवेदन दिया। उन्होने बताया कि पूर्व सरंपंच एवं सचिव द्वारा इस मद की राशि निकाली जा चुकी है। कलेक्टर ने मुख्यमंत्री ग्राम सड़क योजना के ईई को मामले की जांच कर प्रतिवेदन प्रस्तुत करने के निर्देश दिये हैं। रावन निवासी गोपाल यदु ने आरटीओ विभाग में प्रदूषण को पंजीकृत एवं सत्यापन कराने के लिए आवेदन दिया। स्वरोजगार ऋण योजना के अंतर्गत उन्होंने प्रदूषण जांच वाहन खरीदी है। कलेक्टर ने आरटीओ को जल्द कार्यवाही कर आवेदक को सूचित करने कहा है। सुहेला तहसील के ग्राम बिटकुली निवासी भगेला राम ने अपने खेत तक पहुंचने के लिए रास्ता खुलवाने का आवेदन दिया। कलेक्टर ने उनके आवेदन को टीएल में रखते हुए भगेला राम को खेत तक पहुंचने के लिए रास्ता दिलवाने के निर्देश दिए हैं। कसडोल तहसील के ग्राम डोंगरीडीह निवासी साहेबलाल केंवट ने अपने गुमशुदा पिता के स्थान पर पुश्तैनी जमीन पर नाम दर्ज करने के लिए दरख्वास्त दिया। उन्होंने बताया कि लगभग 20 साल पूर्व से उनके पिता घर से बाहर कहीं चले गये हैं। इससे धान बेचने में परेशानी हो रही है। कलेक्टर ने एसडीएम कसडोल को आवश्यक कार्रवाई करने को कहा है। सिमगा तहसील के ग्राम हथबंद के ग्रामीणों और पंचों ने पंचायत सचिव एवं रोजगार सहायक को हटाने के लिए आवेदन दिया। उनकी कार्यप्रणाली शासन के नियम-कायदों के विपरित है। कलेक्टर ने जिला पंचायत सीइओ को जांच कर आवश्यक कार्रवाई करने कहा है। आयुर्वेद चिकित्सक डॉ. आर.के.बंजारे की सेवायें जिला अस्पताल के आयुष विंग में यथावत बनाये रखने के लिए इलाजरत मरीजों ने आवेदन किया है। कलेक्टर ने इसे गंभीरता से लेते हुए स्वास्थ्य विभाग को आवश्यक कार्रवाई के निर्देश दिये। पन्द्रहवें वित्त की राशि में गड़बड़ी का आरोप कोहरौद के वर्तमान स्थानापन्न सरपंच पर लगाया गया है। कलेक्टर ने मामले की गंभीरता को देखते हुए इसकी जांच के निर्देश जिला पंचायत सीईओ को दिये हैं।

सिमगा तहसील के ग्राम हथबंद के ग्रामीणों और पंचों ने पंचायत सचिव एवं रोजगार सहायक को हटाने के लिए आवेदन दिया। उनकी कार्यप्रणाली शासन के नियम-कायदों के विपरित है। कलेक्टर ने जिला पंचायत सीइओ को जांच कर आवश्यक कार्रवाई करने कहा है। आयुर्वेद चिकित्सक डॉ. आर.के.बंजारे की सेवायें जिला अस्पताल के आयुष विंग में यथावत बनाये रखने के लिए इलाजरत मरीजों ने आवेदन किया है। कलेक्टर ने इसे गंभीरता से लेते हुए स्वास्थ्य विभाग को आवश्यक कार्रवाई के निर्देश दिये।

जनचौपाल में शिकायतों और समस्याओं को लेकर उमड़ी भीड़, कलेक्टर-एसपी ने की ग्रामीणों से मुलाकात

पन्द्रहवें वित्त की राशि में गड़बड़ी का आरोप कोहरौद के वर्तमान स्थानापन्न सरपंच पर लगाया गया है। कलेक्टर ने मामले की गंभीरता को देखते हुए इसकी जांच के निर्देश जिला पंचायत सीईओ को दिये हैं।

Related Articles