किसके सिर सजेगा हिमाचल के CM का ताज ?, प्रतिभा नहीं, ये तीन नेता हैं प्रबल दावेदार

Whatsaap Strip

Himachal Congress CM Race: हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने 40 सीटें जीतकर सत्ता में पांच साल बाद वापसी कर ली है, लेकिन मुख्यमंत्री पद को लेकर खींचतान देखने को मिल रहा है। इसी बीच प्रतिभा सिंह CM पद की रेस से बाहर हो गई हैं, जिसके बाद तीन नेता मुख्यमंत्री पद के प्रबल दावेदार के रूप में सामने आ रहे हैं। वहीं बैठक में विधायकों ने CM का फैसला पार्टी आलकमान पर छोड़ दिया है। ऐसे में अब कांग्रेस आलाकमान हिमाचल प्रदेश के अगले मुख्यमंत्री का फैसला करेगा।

यह भी पढ़ें:- भारतीयों को भाया विदेश, 10 माह में 1 लाख से ज्यादा ने छोड़ा देश

जानकारी के मुताबिक राज्य के पूर्व पार्टी प्रमुख सुखविंदर सिंह सुक्खू, सीपीएल नेता मुकेश अग्निहोत्री और पार्टी नेता राजिंदर राणा को CM पद के रेस में माना जा रहा है। हालांकि हिमाचल प्रदेश के लिए अपने मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार को अंतिम रूप देना कांग्रेस के लिए एक कठिन काम है। पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह की पत्नी प्रतिभा सिंह को आलाकमान CM पद की रेस में नहीं मान रहा है। इससे पहले प्रतिभा सिंह के समर्थक बड़ी संख्या में कांग्रेस शिमला मुख्यालय के बाहर जमा हो गए, जहां वे उन्हें राज्य का मुख्यमंत्री बनाने की मांग करने लगे। (Himachal Congress CM Race)

सूत्रों के मुताबिक मुख्यमंत्री पद की दौड़ में सिर्फ तीन नेता सुखविंदर सिंह सुक्खू, मुकेश अग्निहोत्री और राजिंदर राणा हैं। मुख्यमंत्री विधायकों में से ही होगा। आलाकमान को लगता है कि अगर प्रतिभा सिंह को मुख्यमंत्री बनाया जाता है तो दो उपचुनाव कराने होंगे- एक लोकसभा का, दूसरा विधानसभा का। वहीं प्रतिभा सिंह के बेटे विक्रमादित्य सिंह को कैबिनेट में उच्च पद दिया जा सकता है। ऐसे में जब कांग्रेस मंडी की 10 में से 9 सीटों पर हार गई है तो तुरंत उपचुनाव कराना उचित नहीं होगा। कहीं न कहीं चुनाव जीतकर जो माहौल बनाया गया है, वह बिगड़ सकता है।

इधर, प्रतिभा सिंह के 25 विधायकों के समर्थन के दावे को भी खारिज कर दिया गया है। उनके मुताबिक व्यक्तिगत रूप से सुक्खू के साथ और भी विधायक हैं। इससे पहले शुक्रवार को हिमाचल प्रदेश में कांग्रेस के नवनिर्वाचित विधायकों ने मुख्यमंत्री चुनने का फैसला पार्टी आलाकमान पर छोड़ने का प्रस्ताव पारित किया, जिसके बाद अब दिल्ली में सीएम के नाम पर अंतिम मुहर लगेगी। (Himachal Congress CM Race)

AICC के राज्य प्रभारी राजीव शुक्ला ने संवाददाता सम्मेलन में इस फैसले की घोषणा की। राज्य में नतीजों की घोषणा के एक दिन बाद नवनिर्वाचित विधायकों की बैठक हुई। कांग्रेस ने 40 सीटों के साथ पूर्ण बहुमत हासिल किया। बीजेपी को 25 सीटें मिली थीं। शुक्ला ने कहा कि मीडिया की खबरें कि पार्टी के अंदर फूट है, बिल्कुल गलत है। (Himachal Congress CM Race)

उन्होंने कहा कि सभी 40 विधायकों ने कांग्रेस विधायक दल की बैठक में हिस्सा लिया और सभी ने सर्वसम्मति से राज्य के मुख्यमंत्री के चयन का फैसला पार्टी आलाकमान पर छोड़ने का प्रस्ताव पारित किया। मीडिया की खबरें कि पार्टी के अंदर विभाजन है, यह बिल्कुल गलत है। राजीव शुक्ला ने कहा कि किसी विधायक ने कोई नाम नहीं सुझाया। उन्होंने कहा कि सभी विधायकों ने सर्वसम्मति से एक प्रस्ताव पारित किया कि मुख्यमंत्री चुनने का फैसला पार्टी आलाकमान पर छोड़ा जाए। अब CM का फैसला कांग्रेस आलकमान करेगा। (Himachal Congress CM Race)