तूफान के चलते भारी बारिश और लैंडस्लाइड से तबाही, अब तक 29 लोगों की हुई मौत

Landslide in Mizoram: पश्चिम बंगाल और बांग्लादेश में आए चक्रवाती तूफान रेमल का असर नॉर्थ ईस्ट के राज्यों में दिख रहा है। दरअसल, मिजोरम में लगातार बारिश और लैंडस्लाइड की घटनाएं हो रही है, जिसमें जान गंवाने वालों की संख्या 29 हो गई है। इनमें 14 लोगों की मौत आइजोल में पत्थर खदान ढहने के चलते हुई है। मृतकों में दो बच्चे भी शामिल हैं। वहीं 7 लोग लापता बताए जा रहे हैं, जिनकी तलाश जारी है। इधर, असम में भी भारी बारिश के चलते अलग-अलग घटनाओं में महिला समेत 4 लोगों की मौत हो गई है। वहीं 18 घायल हो गए हैं।

यह भी पढ़ें:- ओडिशा के CM नवीन पटनायक ने PM मोदी को दिया जवाब, कहा- इतनी चिंता थी तो फोन कर लेते

नगालैंड में भी चार लोगों की जान गई है। जबकि 40 से ज्यादा घर तबाह हो गए हैं। मेघालय में भी भारी बारिश के कारण दो लोगों की मौत हो गई। वहीं 500 से ज्यादा लोग घायल हो गए हैं। मिजोरम के DGP अनिल शुक्ला के मुताबिक आइजोल शहर के दक्षिणी बाहरी इलाके में पत्थर खदान पिछले तीन दशकों से बंद थी, जहां कई घर और वर्कर कैंप थे। इस बीच मंगलवार को हुए लैंडस्लाइड में 22 लोग मलबे के नीचे दब गए, जहां मंगलवार रात तक 14 शवों को निकाला गया था। बुधवार दोपहर तक चार और शव निकाले गए हैं, जिसके बाद मृतकों की संख्या बढ़कर 29 हो गई। मृतकों में एक चार साल का बच्चा और छह साल की बच्ची शामिल हैं। (Landslide in Mizoram)

8 लापता लोगों की तलाश जारी

इधर, 8 लापता लोगों की तलाश के लिए रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया जा रहा है। इस दौरान मलबे में दबे दो लोगों को जिंदा निकाला गया। मिजोरम के मुख्यमंत्री लालदुहोमा ने जान गंवाने वालों के परिवार को 4 लाख रुपए देने का ऐलान किया है। मौसम विभाग ने पश्चिम बंगाल, अरुणाचल प्रदेश, असम, मेघालय और सिक्किम में 30 मई तक भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। वहीं असम और मेघालय में बहुत भारी बारिश हो सकती है। उत्तर प्रदेश में भीषण गर्मी के बीच नोएडा में हुई हल्की बारिश से लोगों को गर्मी से राहत मिली। केरल के तिरुवनंतपुरम शहर के कई हिस्सों में भी बारिश हुई। (Landslide in Mizoram)

Related Articles

Back to top button