Lok Sabha Election 2024 : आखिरी चरण से पहले मणिशंकर अय्यर की एंट्री! 1962 वाले बयान पर मांगी माफी, पढ़े पूरी खबर

Lok Sabha Election 2024 : लोकसभा चुनाव के आखिरी चरण से मणिशंकर अय्यर ने चीन को लेकर ऐसा बयान दे दिया, जिससे नया विवाद खड़ा हो गया. इस बयान को लेकर बीजेपी कांग्रेस पर हमलावर हो गई. इसके बाद न सिर्फ अय्यर ने माफी मांगी बल्कि कांग्रेस को सफाई देनी पड़ी.

यह भी पढ़े :- Horoscope 29 May 2024 : आज बुधवार का राशिफल, कैसा रहेगा आपका दिन, क्या कहती है आपकी राशि, जानें सभी राशियों का भविष्यफल

अब एक बार फिर उन्होंने कुछ ऐसा बोल दिया, जिस पर कुछ हंगामा मच गया. इस बार उन्होंने चीन का जिक्र करते हुए 1962 में हुए हमले के लिए ‘कथित’ शब्द का इस्तेमाल किया. जिसका यह मतलब हुआ कि चीन ने हमला किया नहीं, बल्कि ऐसा आरोप लगाया जाता है.

अय्यर की इस बात पर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने जोरदार हमला बोला और इसे रिवीजनिज्म यानी संशोधनवाद की ‘बेशर्म कोशिश’ करार दी. हालांकि इसके बाद मणीशंकर अय्यर ने अपनी सफाई देते हुए कहा कि उन्होंने ‘गलती से’ इस ‘कथित’ शब्द का इस्तेमाल किया था और वह इसके लिए माफी मांगते हैं.

दरअसल ‘फॉरेन कॉरेस्पोंडेंट्स क्लब’ में एक किताब ‘नेहरूज़ फर्स्ट रिक्रूट्स’ का विमोचन रखा गया था. इस कार्यक्रम में मणिशंकर अय्यर ने भी अपनी बात रखी, जिसका एक वीडियो भी सामने आया है. इसमें अय्यर ने एक किस्सा सुनाते हुए कहा, ‘…अक्टूबर 1962 में, चीनियों ने कथित रूप से भारत पर आक्रमण किया.

मणिशंकर अय्यर के इस बयान पर बीजेपी ने जोरदार हमला बोला है. बीजेपी आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने इसे लेकर कांग्रेस को भी खूब सुनाया. उन्होंने ‘एक्स’ पर पोस्ट किया, ‘मणिशंकर अय्यर ने नेहरूज फर्स्ट रिक्रूट्स नाम के पुस्तक के विमोचन के दौरान एफसीसी में बोलते हुए 1962 में चीनी आक्रमण को ‘कथित’ बताया. यह ‘रिवीजनिज्म’ की एक बेशर्म कोशिश है.’

मालवीय ने आरोप लगाया, ‘नेहरू ने चीन के पक्ष में संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में स्थायी सीट पर भारत का दावा छोड़ दिया, राहुल गांधी ने एक गुप्त समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए, राजीव गांधी फाउंडेशन ने चीनी दूतावास से पैसे लिए और चीनी कंपनियों के लिए बाजार पहुंच की सिफारिश करते हुए रिपोर्ट छपवाई, उनके आधार पर, सोनिया गांधी की यूपीए ने चीनी सामानों के लिए भारतीय बाजार खोल दिया, जिससे MSMe को नुकसान पहुंचा और अब कांग्रेस नेता अय्यर चीनी आक्रमण पर लीपा-पोती करना चाहते हैं, जिसके बाद से चीन ने भारत के 38,000 वर्ग किलोमीटर इलाके पर अवैध कब्जा कर रखा है.’ मालवीय ने सवाल किया, ‘कांग्रेस का चीनियों से यह प्रेम’ क्या दिखाता है? (Lok Sabha Election 2024)

अपने बयान पर विवाद बढ़ता देख अय्यर एक बार फिर सामने आए. उन्होंने एक छोटा सा बयान जारी करते हुए अपनी बात पर माफी मांगी और कहा कि वह शब्द गलती से निकल गया था. उन्होंने कहा, ‘आज शाम ‘चीनी आक्रमण’ से पहले गलती से ‘कथित’ शब्द का इस्तेमाल करने के लिए मैं पूरी तरह से माफी मांगता हूं. (Lok Sabha Election 2024)

Related Articles

Back to top button