बड़ी खबर : हादसों के बाद जागी छत्तीसगढ़ सरकार, रायपुर की सभी बहुमंजिला इमारतों और अस्पतालों का होगा फायर ऑडिट

Whatsaap Strip

रायपुर : भोपाल के हमीदिया हॉस्पिटल में लगी आग और अब रायपुर की हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी में आग से एक किशोरी की मौत के बाद छत्तीसगढ़ सरकार भी जागी है। अब सभी बहुमंजिला इमारतों और अस्पतालों में आग से बचने के उपायों की जांच का फैसला हुआ है। रायपुर कलेक्टर ने फायर ऑडिट के लिए 10 टीमों को जिम्मा दिया है।

इसे भी पढ़े:टीकाकरण सत्र आयोजित नहीं किये जाने पर 5 बीएमओ सहित 132 कर्मचारियों को जारी हुआ नोटिस

रायपुर कलेक्टर सौरभ कुमार ने बताया, रायपुर जिले के चिकित्सालय भवनों, अस्पतालों और बहुमंजिला रहवासी इमारतों में अग्निशमन मानदंडों का कड़ाई से पालन नहीं किया जा रहा है। ऐसे भवनों के फायर ऑडिट, अग्नि सुरक्षा और अन्य सुरक्षा मानकों की जांच के लिए दल का गठन किया गया है। यह जांच दल सबसे पहले रायपुर जिले के अस्पतालों की जांच करेगा। जांच दल को तीन दिन में जांच रिपोर्ट देने को कहा गया है।

इसे भी पढ़े:BIG BREAKING: डीजीपी डीएम अवस्थी हटाए गए, अब राज्य के नए DGP होंगे अशोक जुनेजा

इसके बाद बहुमंजिली रिहायशी इमारतों का फायर ऑडिट होगा। रायपुर एसडीएम को रायपुर नगर निगम से बाहर के अस्पतालों और बहुमंजिला इमारतों की जांच का निर्देश दिया गया है। वहीं अभनपुर और आरंग एसडीएम को उनके क्षेत्र में ऐसी इमारतों और अस्पतालों की जांच कर रिपोर्ट पेश करने की जिम्मेदारी दी गई है।

अप्रैल में एक बड़ी दुर्घटना देख चुका है रायपुर :

अप्रैल महीने में रायपुर के एक निजी अस्पताल के ICU में आग लगने से पांच मरीजों की मौत हो गई थी। इसमें से एक मरीज की झुलसने से और शेष चार की धुएं की वजह से दम घुटने से हुई। शुरुआती जांच में सामने आया था कि उस अस्पताल में आग बुझाने का इंतजाम नहीं था। आपातकालीन निकासी की भी व्यवस्था नहीं थी। हादसे के बाद सरकार ने फायर ऑडिट का आदेश दिया था।

Related Articles