NIDM रिपोर्ट: कोरोना की तीसरी लहर सितंबर में आने की आशंका, अक्टूबर में संक्रमण होगा चरम पर

Whatsaap Strip

न्यूज डेस्क

गृह मंत्रालय की नेशनल इंस्‍टीट्यूट ऑफ डिजास्‍टर मैनेजमेंट (NIDM) कमेटी ने कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर की आशंका जाहिर की है। कमेटी ने अपनी रिपोर्ट प्रधानमंत्री कार्यालय को भेजी है।

इसके मुताबिक अक्तूबर में कोरोना की तीसरी लहर अपने पीक पर होगी। साथ ही कमेटी ने प्रधानमंत्री कार्यालय को बच्चों और युवाओं के लिए मेडिकल सुविधाओं का इंतजाम करने की सलाह भी दी है। विशेषज्ञों की कमेटी का मानना है कि तीसरी लहर वयस्कों के मुकाबले बच्चों व युवाओं के लिए बड़ा खतरा बन सकती है।

ACB की कार्रवाई, रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ा गया SDM कार्यालय का बाबू 

नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ डिजास्टर मैनेजमेंट (NIDM) की रिपेार्ट के मुताबिक सितंबर अंत तक कोरोना संक्रमण तीसरी लहर अपना असर दिखाना शुरू कर देगी। वहीं अक्तूबर में देश में हर दिन पांच लाख से भी ज्यादा मामले सामने आ सकते हैं। इस कारण करीब दो महीने तक देश को फिर कोरोना संक्रमण का सामना करना पड़ सकता है। रिपोर्ट के मुताबिक, देश में बच्चों के लिए मेडिकल सुविधाएं, वेंटीलेटर, डॉक्टर, मेडिकल स्टाफ, एंबुलेंस, ऑक्सीजन की पर्याप्त व्यवस्था करनी होगी। क्योंकि, बड़ी संख्या में बच्चे व युवा कोरोना से संक्रमित होंगे।

शिक्षा विभाग के क्लर्क ने शादी का झांसा देकर किया 2 रेप, एडमिशन के बहाने शुरू हुआ था प्रेम प्रसंग 

गृह मंत्रालय ने यह रिपोर्ट उस समय जारी की है, जब बच्चों के लिए टीकाकरण भी शुरू होने वाला है। रिपेार्ट में कहा गया है कि बच्चों के बीच प्राथमिकता के आधार पर टीकाकरण करना होगा। इसके साथ ही कमेटी ने कोविड वार्ड को फिर से इस आधार पर तैयार करने की सलाह दी है, जिससे बच्चों के तीमारदारों को भी साथ रहने की अनुमति मिल सके।