छत्तीसगढ़ के इन जिलों में भारी बारिश की संभावना, मौसम विभाग ने जारी किया ऑरेंज अलर्ट

Whatsaap Strip

रायपुर। छत्तीसगढ़

राजधानी सहित प्रदेश के कई जिलों में मानसून ने फिर रफ़्तार पकड़ ली है। छत्तीसगढ़ राज्य के आसपास मौजूद सिस्टमों की वजह से पिछले 24 घंटों से कई जगहों पर बारिश हो रही है। मौसम विभाग के अनुसार शुक्रवार को भी प्रदेश के कई हिस्सों में अच्छी बारिश के आसार नजर आ रहे हैं।

इन जगहों पर जमकर बरसे बादल

मौसम विभाग के अनुसार पिछले 24 घंटों में राज्य में कई जगहों पर अच्छी बारिश हुई है। राजपुर में सबसे ज्यादा 120 मिमी बारिश रिकॉर्ड की है। बिलासपुर, प्रतापपुर, पेंड्रारोड और कसडोल में 70 मिमी, तिल्दा और केशकाल में 50 मिमी, थान खम्हारडीह, लोरमी, कोरबा और दरभा में 40 मिमी बारिश दर्ज की गई है। लालपुर मौसम विज्ञान केंद्र ने राजधानी में केवल आधा मिमी बारिश दर्ज की है।

मौसम विभाग ने जारी किया ऑरेंज अलर्ट

छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर स्थित मौसम विज्ञान केंद्र ने अगले रायपुर सहित मध्य छत्तीसगढ़ के 8 जिलों में भारी बरसात और आकाशीय बिजली गिरने की संभावना जताई है। विभाग ने इन जिलों के लिए ऑरेंज अलर्ट भी जारी किया है।

मौसम विभाग के मुताबिक राजधानी रायपुर, बिलासपुर, मुंगेली और आसपास के जिलों के ऊपर गहरे बादल छाए हैं। मुंगेली, कबीरधाम और बेमेतरा जिलों में अनेक स्थानों पर भारी बरसात हो सकती है। वहीं महासमुंद, बलौदा बाजार-भाटापारा, राजनांदगाव, दुर्ग, रायपुर और गरियाबंद में आकाशीय बिजली गिरने की भी संभावना है।

ओडिशा में बना है सिस्टम

तटीय ओडिशा और उससे लगे उत्तर पश्चिम बंगाल की खाड़ी में निम्न दबाव और चक्रीय चक्रवाती घेरे के कारण छत्तीसगढ़ के कई क्षेत्रों में भारी से अति भारी बारिश होगी। मौसम विभाग ने प्रदेश के राहत आयुक्त को पत्र जारी कर आगामी 24 घंटे भारी से अति बारिश की चेतावनी देते हुए ऐहतियात बरतने कहा है।

मौसत विज्ञानी एचपी चन्द्रा के अनुार एक निम्न दाब का क्षेत्र तटीय उड़ीसा और उससे लगे उत्तर-पश्चिम बंगाल की खाड़ी के ऊपर स्थित है, इसके साथ ऊपरी हवा का चक्रीय चक्रवाती घेरा 7.6 किलोमीटर ऊंचाई पर स्थित है। एक उत्तर-दक्षिण द्रोणिका निम्न दाब के केंद्र से उत्तर तमिलनाडु तक 1.5 किलोमीटर ऊंचाई तक विस्तारित है।

Related Articles