जम्मू-कश्मीर में पकड़े गए जैश के 4 आतंकी, अयोध्या सहित इन जगहों पर थी हमले की तैयारी

Whatsaap Strip

न्यूज़ डेस्क।

जम्मू-कश्मीर में स्वतंत्रता दिवस के एक दिन पहले देश के सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी मिली है। ख़ुफ़िया एजेंसी से मिली जानकारी के बाद सुरक्षाबलों ने जम्मू से जैश-ए-मोहम्मद के जुड़े चार आतंकियों को गिरफ्तार किया है। वे ड्रोन से गिराए गए हथियारों को इकट्ठा करने और कश्मीर घाटी में जैश के सक्रिय आतंकवादियों तक पहुंचाने की योजना बना रहे थे। इसके अलावा आतंकवादियों का 15 अगस्त को वाहन IED धमाका करने का प्लान था।

लाल किले की प्राचीर पर पीएम मोदी ने आठवीं बार फहराया तिरंगा, देश को किया सम्बोधित

स्वतंत्रता दिवस पर बड़े विस्फोट की थी तैयारी

मिली जानकारी के अनुसार ये आतंकी 15 अगस्त पर जम्मू-कश्मीर में आईईडी मोटरसाइकिल में लगाकर भीड़भाड़ वाले स्थानों पर विस्फोट करने का प्लान बना रहे थे। पहले पकड़े गए आतंकियों के इनपुट पर पुलिस ने चार और दहशतगर्दों को गिरफ्तार कर आतंकी मॉड्यूल को ध्वस्त किया है। आतंकी शहर के रघुनाथ मंदिर, बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन, अन्य प्रसिद्ध मंदिरों समेत भीड़भाड़ वाले इलाकों में रैकी कर चुके थे। यह भी बताया जा रहा है कि ड्रोन के माध्यम से गिराए गए हथियारों को भी आतंकी जम्मू से घाटी में पहुंचा रहे हैं।

कैरेबियाई देश हैती में आया भयानक भूकंप, 300 की मौत 1800 से ज्यादा घायल

देश के इन जगहों पर भी कर रहे थे रेकी

बताया जा रहा है कि ये आतंकी जम्मू-कश्मीर के अलावा पानीपत रिफाइनरी और अयोध्या के श्रीरामजन्म भूमि मंदिर की भी रेकी कर रहे थे। एडीजीपी जम्मू ने बताया कि आतंकियों की गिरफ्तारी एक बड़ी सफलता है। इससे एक बड़े आतंकी हमलों को टाला गया है। पुलिस लगातार आतंकियों की पूछताछ करने में लगी हुई है।

स्वतंत्रता दिवस खास : जानें बरसों की गुलामी के बाद आखिर कैसे मिली भारत को आजादी

राम मंदिर की रेकी

गिरफ्तार हुए जैश के आतंकी इजहार खान उर्फ सोनू खान पुत्र इंतेजार खान निवासी मिरदान मोहल्ला कंडाला शामली (उत्तर प्रदेश) ने खुलासा किया कि पाकिस्तान में बैठे कमांडर मुनाजिर उर्फ शाहिद ने उसे अमृतसर के पास से हथियार इकट्ठा करने के लिए कहा था, जिसे ड्रोन से गिराया जाना था। उसे जैश ने पानीपत तेल रिफाइनरी की रेकी लेने के लिए भी कहा था, जो उसने किया और पाकिस्तान को वीडियो भेजे थे। फिर उन्हें अयोध्या राम जन्मभूमि की रेकी करने का काम सौंपा गया लेकिन इस काम को पूरा करने से पहले ही उसे गिरफ्तार कर लिया गया।

Related Articles