अफगानिस्तान : देश छोड़ने के लिए जान जोखिम में डालकर प्लेन की विंग्स पर सवार हो रहे नागरिक, तीन नीचे गिरे

Whatsaap Strip

न्यूज़ डेस्क।

आख़िरकार 4 करोड़ की आबादी वाला अफगानिस्तान बड़ी आसानी से तालिबान के कब्जे में आ गया है। अफगानिस्तान पर तालिबान का कब्जा होने के बाद स्थिति बेहद खराब हो गई है। अफगान नागरिक जल्द से जल्द देश छोड़कर जाना चाह रहे हैं। दुनियाभर को लगा था की 31 अगस्त को जब अमेरिकी सेना अफगानिस्तान छोड़ेगी, तो तालिबान सत्ता संघर्ष छोड़ेगा। लेकिन किसी को ये उम्मीद नहीं थी की अमेरिकी सेना के होता हुए तालिबान इतना ताकतवर हो जायेगा और इतनी जल्दी सत्ता हासिल कर लेगा।

अफगानिस्तान : फायरिंग के बाद काबुल एयरपोर्ट में मची भगदड़, अमेरिका ने टेक ओवर किया एयर ट्रैफिक कंट्रोल

देश छोड़कर भागे राष्ट्रपति

रविवार को तालिबान ने अफगानिस्तान की राजधानी काबुल पर घुसने की पहल की। उससे पहले की देश के राष्ट्रपति अशरफ गनी अपने परिवार समेत देश छोड़कर चले गए। तालिबान प्रवक्ता ने कहा की गनी अपने साथ 50 लाख अमेरिकी डॉलर से भरी एक कार लेकर गए हैं। राष्ट्रपति गनी ने पहले की कहा था कि हम आखिर तक लड़ेंगे। भागने के बाद कहा खूनखराबा रोकने के लिए देश छोड़ा। गनी के जाते ही पूरी अफगान सरकार छुप गई है।

अगर आपको भी है पेट में जलन या उल्टी की शिकायत को बिलकुल न करें इग्नोर, हो सकती है ये बीमारी

जल्द से जल्द देश छोड़ना चाहते हैं नागरिक

अफगान नागरिक जल्द से जल्द देश छोड़कर जाना चाह रहे हैं। इस क्रम में हजारों लोग काबुल एयरपोर्ट पर पहुंच गए, भीड़ को नियंत्रित करने के लिए अमेरीकी सैनिकों को गोलियां चलानी पड़ी जिसमें 5 लोगों की मौत हो गई। वहीं इस बीच एक हैरतअंगेज वीडियो सामने आया है, जिसमें कई लोग हवाई जहाज के अंदर जगह ना मिलेन पर उसकी विंग पर सवार हो गए।

रेलवे ने दिया महिलाओं को रक्षाबंधन पर खास तोहफा, 15-24 अगस्त तक इन ट्रेनों में सफर करने में मिलेगा कैशबैक

वहीं विमान के हवा में पहुंचते ही कई लोग संतुलन बिगड़ने से सैकड़ों फीट की ऊंचाई से नीचे गिर गए हैं। बताया गया कि यह लोग C-17 विमान के कई हिस्सों पर लटक कर जा रहे थे। विमान के हवा में पहुंचते ही काबुल हवाई अड्डे के पास ही ये लोगो नीचे गिर गए हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार इस विमान से 3 लोग गिरे है।