छत्तीसगढ़ में बन रहे 4 नए जिलों पर भाजपा ने जताया विरोध, उठी इन क्षेत्रों को जिला बनाने की मांग

Whatsaap Strip

रायपुर। छत्तीसगढ़

स्वतंत्रता दिवस के मौके पर छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रदेश को चार नए जिलों की सौगात दी है। बलौदाबाजार और भाटापारा जो संयुक्त जिला हैं। लेकिन भाटापारा को स्वतंत्र जिला नहीं बनाए जाने पर भाजपा ने नाराजगी जताई है। भारतीय जनता पार्टी के विधायक शिवरतन शर्मा के नेतृत्व में समर्थकों ने विरोध प्रदर्शन किया। इसके साथ ही भाजपा ने भाटापारा को अलग जिला बनाए जाने की मांग की है।

लाल किले की प्राचीर पर पीएम मोदी ने आठवीं बार फहराया तिरंगा, देश को किया सम्बोधित

विधायक शिवरतन शर्मा ने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भाटापारा में कहा था कि उनकी सत्ता में आने पर भाटापारा को अलग जिला बनाया जायेगा, लेकिन आज वो अपना वादा भूल गए हैं। भाजपा इसका विरोध करती है। यह विरोध तब तक जारी रहेगा, जब तक भाटापारा अलग जिला नहीं बन जाता है।

सीएम भूपेश ने पुलिस परेड ग्राउंड में फहराया तिरंगा, प्रदेश में 4 नए जिलों के गठन की घोषणा

जशपुर के पत्थलगांव को भी जिला नहीं बनाए जाने पर भाजपा के हजारों कार्यकर्ताओं ने इंदिरा चौक पर जमकर विरोध प्रदर्शन किया। कुछ घंटों के लिए विरोध में चक्काजाम कर दिया। चक्काजाम कर देने से तीनों मुख्य मार्गों पर वाहनों की घंटों तक लंबी कतार लग गई। भाजपा के नेताओं ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल पर सौतेला व्यवहार करने का आरोप लगाया है।

स्वतंत्रता दिवस पर सीएम भूपेश का जनता के नाम संदेश, कहा- गांधीवादी सोच की परिकल्पना जल्द होगी साकार

सूरजपुर में कांग्रेस नेताओं ने विरोध जताया है। कांग्रेस ने प्रतापपुर-वाड्रफनगर को जिला बनाने की मांग की है। प्रतापपुर के जनपद पंचायत अध्यक्ष, नगर पंचायत अध्यक्ष और कांग्रेस के पदाधिकारियों ने एसडीएम के माध्यम से मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा है। उन्होंने प्रतापपुर-वाड्रफनगर को अलग जिला बनाने की मांग की है।

स्वतंत्रता दिवस : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का प्रदेश के नाम संदेश, पढ़ें 10 महत्वपूर्ण बातें

छत्तीसगढ़ में 4 नए जिलों की सौगात

बता दें कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज 75वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर प्रदेश की जनता के नाम अपने संदेश के दौरान प्रदेशवासियों को कई ऐतिहासिक सौगातें दी। मुख्यमंत्री ने राज्य में जिलों का पुनर्गठन करते हुए चार नये जिले मोहला-मानपुर, सक्ती, सारंगढ़-बिलाईगढ़ और मनेन्द्रगढ़ के गठन की ऐतिहासिक घोषणा की। उन्होंने राज्य में 18 नई तहसीलों के गठन का भी ऐलान किया।