Trending

छत्तीसगढ़ : हर घर दस्तक अभियान को मिल रहा जन सहयोग, अब 28 दिन बाद दूसरा डोज़ लगेगा

Whatsaap Strip

रायपुर : जिले में चल रहे हर घर दस्तक अभियान को जन सहयोग से चला कर शत-प्रतिशत कोविड टीकाकरण के लक्ष्य को पूरा करने के लिए स्वास्थ्य कर्मी जुट गए है। इसी कड़ी में विकासखंड धरसीवा के कुकेरा उप स्वास्थ्य केंद्र (हेल्थ एंड वैलनेस सेंटर) द्वारा हर घर दस्तक अभियान चलाकर 51 लोगों का टीकाकरण किया गया।

इसे भी पढ़े:लोकवाणी : आज लोकवाणी का हुआ प्रसारण, मुख्यमंत्री ने कही यह महत्वपूर्ण बात, पढ़ें पूरी ख़बर

हर घर दस्तक अभियान की जानकारी देते हुए मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कार्यालय के मीडिया प्रभारी गजेंद्र डोंगरे ने बताया, विकासखंड धरसीवा के कुकेरा उप स्वास्थ्य केंद्र द्वारा आश्रित ग्राम रैता में हर घर दस्तक अभियान चलाकर 51 लोगों का टीकाकरण किया गया है । जिसमें 16 लोगों को प्रथम डोज़ और 35 लोगों को दूसरा डोज़ दिया गया है ।

इसे भी पढ़े:रविवि के हॉस्टल जल्द होंगे शुरू : स्टूडेंट्स की शिकायत पर रायपुर कलेक्टर ने दिए हॉस्टल शुरू करने के निर्देश, 2019 से हैं बंद

ग्राम रैता में टीकाकरण अभियान का नेतृत्व कर रहे ग्रामीण स्वास्थ्य संयोजक वरुण माण्ड़े ने बताया, ‘’हर घर दस्तक अभियान  को जनता का भी भरपूर सहयोग मिल रहा है लोगों के बीच फैली भ्रांतियां भी दूर हो रही है।

साथ ही जो लोग कार्य अधिकता के कारण समय से दूसरा डोज़ नहीं लगवा पा रहे या कुछ लोग व्यस्तता के कारण अभी तक प्रथम डोज भी नहीं लगवा पाए। वह लोग इस अभियान में बढ़-चढ़कर हिस्सा ले रहे है।

ग्राम रैता के डेरी व्यवसाय करने वाले गोपाल यदु 52 वर्षीय कहते हैं, ‘’मुझे अज्ञानता के कारण कुछ लोगों ने भ्रमित कर दिया था। मैंने अपनी जिज्ञासाओं को टीकाकरण करने आए स्वास्थ्य कर्मी से पूछा और उन्होंने मेरी भ्रांति और  जिज्ञासाओं को शांत किया। मैं उनके द्वारा बताए गई जानकारी से सहमत हुआ और मैंने अपना प्रथम डोज़ लगवाया है। मुझे ग्रामीण स्वास्थ्य संयोजक वरुण माण्ड़े ने द्वारा जानकारी दी गयी कि अब 28 दिन बाद दूसरा डोज़ लगेगा।‘’

इसे भी पढ़े:कलेक्टर ने की धान खरीदी की तैयारी की समीक्षा, 173 उपार्जन केन्द्रों में होगी खरीदी, कोचिया एवं दलालों पर रहेगी प्रशासन की पैनी नजर

ग्राम रैता के निवासी जगन्नाथ विश्वकर्मा 35 वर्षीय पेशे से ड्राइवर है उनको लगता था कि अब कोविड पूर्णता समाप्त हो गया है प्रथम डोज़ के बाद दूसरे डोज़ की उन्हें कोई आवश्यकता नहीं है, जगन्नाथ कहते हैं, “जब टीम मेरे घर आई तो उन्होंने मुझे बताया कि प्रथमडोज़ के बाद द्वितीय डोज़ लेना भी उतना ही जरूरी है जितना पहला। व्यक्ति को टीकाकरण की दोनों डोज़ लेने के बाद ही कोविड से सुरक्षा प्राप्त  होती है।‘’

इसे भी पढ़े:नए बस स्टैंड से सफर शुरू,शहर में यात्री बसों का प्रवेश बैन,पुलिस ने रखी नजर

ग्राम रैता की निवासी 32 वर्षीय पूर्णिमा वर्मा गृहणी है बताती है, ‘’वह गृह कार्य की अधिक व्यस्तता के कारण अपना दूसरा डोज़ नहीं ले पा रही थी ‘’हर घर दस्तक अभियान’’ के माध्यम से जब टीम उनके घर पहुंची तो उन्होंने तुरंत ही अपना दूसरा डोज लगवा लिया उनका मानना है कि इस अभियान के तहत सब लोग अपना वैक्सीनेशन करवाएं। सरकार ने घर तक सेवा पहुंचाने का कार्य किया है हमें उस सेवा का लाभ उठाना चाहिए।“

सोशल मीडिया और नए तरीकों के इस्तेमाल पर बल

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी पत्र में कोविड टीकाकरण को लेकर सोशल मीडिया के प्रभावी इस्तेमाल करने की सलाह दी गयी है। विशेष कर कोविड वैक्सीनेशन के विरुद्ध फैले अफवाहों आदि को दूर करने के लिए सोशल मीडिया के इस्तेमाल किये जाने के लिए कहा गया है,

इसे भी पढ़े:शहीद कर्नल विप्लव त्रिपाठी और उनके परिवार का पार्थिव शरीर पहुंचा रायगढ़, सम्मान में रायगढ़ शहर बंद

जिसमें कोविड वैक्सीनेशन प्राप्त कर चुके लोगों के सकारात्मक अनुभवों को साझा करने के लिए भी कहा गया है। साथ ही कोविड टीकाकरण के लिए लोगों को जागरूक करने और 18 से अधिक उम्र के लोगों के शत प्रतिशत कोविड टीकाकरण होने के लिए अन्य नये तरीकों का इस्तेमाल करने के लिए भी कहा गया है।

Related Articles