टीम इंडिया का सेमीफाइनल में पहुंचना मुश्किल: दो करिश्मे हुए तो ही सेमी का रास्ता मुमकिन

Whatsaap Strip

दुबई : टी-20 WC के 28वें मैच में न्यूजीलैंड ने भारतीय टीम को बुरी तरह से शिकस्त देते हुए 8 विकेट से हरा दिया है। टॉस हारकर पहले खेलते हुए टीम इंडिया के बल्लेबाजों ने निराश किया और 20 ओवरों में 110/7 का स्कोर ही बना सकी। रवींद्र जडेजा 26 नाबाद टॉप स्कोरर रहे। वहीं, कीवी टीम के लिए ट्रेंट बोल्ट के खाते में 3 विकेट आए। 111 रनों के टारगेट को न्यूजीलैंड ने बहुत ही आसानी के साथ 14.3 ओवर के खेल में 2 विकेट के नुकसान पर हासिल कर लिया।

इसे भी पढ़े:धनतेरस मंगलवार 2 नवम्बर 2021 : भगवान विष्णु के बारहवें अवतार धन्वन्तरी, धनतेरस पर क्या खरीदने की हैं परंपरा, पढ़ें पूरी कथा

टारगेट का पीछा करते हुए कीवी टीम की शुरुआत खराब रही और चौथे ओवर में जसप्रीत बुमराह ने मार्टिन गुप्टिल को 20 रन पर आउट कर टीम को पहली सफलता दिलाई। हालांकि इसके बाद डैरेल मिचेल और केन विलियम्सन ने भारत को वापसी का मौका नहीं दिया और दूसरे विकेट के लिए 54 गेंदों पर 72 रन जोड़े। मिचेल 49 का विकेट भी बुमराह ने लिया।

अब कैसे सेमीफाइनल में पहुंचेगा भारत?

अब टीम इंडिया को आने वाले तीनों मैचों में जीत हासिल करनी होगी। अगर ऐसा होता है तो भारत के 6 अंक होंगे। इस स्थिति में सेमीफाइनल में पहुंचने के लिए भारत को दूसरी टीमों के बीच होने वाले मैच खासकर न्यूजीलैंड-अफगानिस्तान मैच के नतीजे पर निर्भर रहना होगा।

इसे भी पढ़े:राशिफल सोमवार 1 नवम्बर 2021 : सुखी जीवन के लिए करें यह उपाय, क्या कहती हैं आपकी राशि, जानें अपना राशिफल

भारत को दुआ करनी होगी कि अफगानिस्तान की टीम भी न्यूजीलैंड को हराए, लेकिन भारत से हार जाए। इसके बाद भारत नामीबिया और स्कॉटलैंड के खिलाफ बड़े अंतर से जीत हासिल कर अपना नेट रन न्यूजीलैंड और अफगानिस्तान दोनों से बेहतर कर ले। इस स्थिति में भारतीय टीम न्यूजीलैंड से हारकर भी सेमीफाइनल में पहुंच सकती है।

इसे भी पढ़े:अनमोल चिंतन 1 नवम्बर 2021 : निंदा से विचलित न हों, हर व्यक्ति का होता हैं अपना-अपना दृष्टिकोण एवं स्वभाव

भारत के लिए अच्छी बात यह है कि उसके आखिरी दो मुकाबले स्कॉटलैंड (5 नवंबर) और नामीबिया (8 नवंबर) से हैं। दोनों टीमें कमजोर मानी जाती हैं और इनके खिलाफ बड़ी जीत हासिल कर भारत नेट रन रेट के मामले में आगे बढ़ सकता है।

Related Articles