BSF के जवानों और पाकिस्तानी रेंजर्स ने मनाया दोनों देशों की आजादी का जश्न, एक-दूसरे को भेंट की मिठाई

Whatsaap Strip

न्यूज़ डेस्क।

15 अगस्त, 1947 भारतीय इतिहास की वो तारीख है जब हमारा देश ब्रिटिश हुकूमत से आजाद हुआ था। इसी ख़ुशी में आज पूरा भारत देश आजादी का जश्न मना रहा है। भारत की आजादी से एक दिन पहले यानी 14 अगस्त को भारत का पडोसी देश पकिस्तान भी अंग्रेजों की गुलामी से आजाद हुआ था।

जम्मू-कश्मीर में पकड़े गए जैश के 4 आतंकी, अयोध्या सहित इन जगहों पर थी हमले की तैयारी

14 अगस्त को पाकिस्तान ने अपनी आजादी का जश्न मनाया। इसी दौरान शनिवार को अमृतसर के अटारी-वाघा बॉर्डर पर बार्डर सिक्योरिटी फोर्स के जवानों और अधिकारियों को पाकिस्तानी रेंजर्स ने मिठाई भेंट की। बीएसएफ अधिकारियों ने भी पाक रेंजर्स को आजादी दिवस की मुबारकबाद देते हुए मिठाई दी। BSF कमांडेंट जसबीर सिंह ने कहा कि हम लोग कल भी भारत के स्वतंत्रता दिवस के मौके पर पाक रेंजर्स को मिठाई भेंट करेंगे।

स्वतंत्रता दिवस खास : जानें बरसों की गुलामी के बाद आखिर कैसे मिली भारत को आजादी

15 अगस्त, 1947 भारतीय इतिहास की वो तारीख है जब हमारा देश ब्रिटिश हुकूमत से आजाद हुआ था। वहीं इसी दिन पाकिस्तान को भी आजादी मिली थी। लेकिन 15 अगस्त के बावजूद पाकिस्तान अपनी आजादी का जश्न 14 अगस्त को मनाता है। पाकिस्तान का आजादी का जश्न 15 अगस्त की बजाए 14 अगस्त को मनाए जाने के पीछे एक कारण छुपा है।

लाल किले की प्राचीर पर पीएम मोदी ने आठवीं बार फहराया तिरंगा, देश को किया सम्बोधित

दरअसल, पाकिस्तान के रूप में एक अलग राष्ट्र की स्वीकृति 14 अगस्त को हो गई थी। इसी दिन ही ब्रिटिश लॉर्ड माउंटबेटेन ने पाक को स्वत्रंत राष्ट्र का दर्जा देकर सत्ता सौंपी थी। साल 1948 में पाकिस्तान में आजादी की तारीख को 14 अगस्त कर दिया गया था। कई मीडिया रिपोर्ट्स का ये भी कहना है कि उस दिन रमजान का 27वां दिन था। जो इस्लामी कैलेंडर के अनुसार खास और पवित्र दिन माना जाता है।

Related Articles