अब सभी शासकीय और निजी स्कूलों में पालकों की मर्जी से स्टूडेंट्स का होगा रैंडम कोविड टेस्ट

Whatsaap Strip

बलौदाबाजार। छत्तीसगढ़

बलौदाबाजार के कलेक्टर सुनील कुमार जैन ने शुक्रवार को सभी अनुविभागीय अधिकारी को आदेशित करतें हुए शासकीय एवं निजी स्कूलों में कोविड टेस्ट कराने का आदेश दिया है। लगातार बढ़ रहे संक्रमण को देखते हुए प्रभाव एवं कोविड गाइडलाइंस पालन में लापरवाही बरतने वालों को फटकार लगाई है और स्कूली छात्र-छात्राओं के स्वास्थ्य को देखतें हुए रैंडम कोविड टेस्ट कराने का आदेश जारी किया है।

फाइनल रिहर्सल हुई पूरी, अब 15 अगस्त को सीएम भूपेश फहराएंगे तिरंगा

स्टूडेंट्स के कोविड टेस्ट के पहले उनकें पालकों एवं अभिभावकों से स्कूल को लिखित में अनुमति लेनी होगी। इसके लिए पहले ही शिक्षा एवं स्वास्थ्य विभाग को निर्देश जारी कर दिया गया है। इसके साथ ही कलेक्टर जैन ने जिला मुख्य स्वास्थ्य एवं चिकित्सा अधिकारी डॉ खेमराज सोनवानी को निर्देश देतें हुए कहा कि प्रत्येक विकासखंड में प्रतिदिन 3 हजार से अधिक कोविड टेस्टिंग कराने कहा है। जिसमें एंटीजन, टू नॉट और RTPCR टेस्ट शामिल है।

MST की सुविधा बंद होने से बढ़ी पैसेंजर्स की परेशानी, लोकल ट्रेनों में दे रहे तिगुना किराया

उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के टीम को निर्देशित करतें हुए कहा कि आम लोगों के साथ स्कूली बच्चों का भी टेस्टिंग करना अब अनिवार्य होगा। कलेक्टर ने कहा कि इससे संक्रमण के प्रभाव को देखने मे मदद मिलेगी, मरीजों के पहचान होने पर उन्हें ट्रेसिंग कर तत्काल इलाज, दवाइयों सहित अन्य जरूरी सुविधाएँ मुहैया कराया जाएगा। उन्होंने आगें बताया कि जिलें में कोविड मरीजों के लिए पर्याप्त सुविधाएं उपलब्ध हैं।

विशेषज्ञों ने कहा, छत्तीसगढ़ में अगस्त में नहीं सितम्बर में आएगी कोरोना की तीसरी लहर

बड़ो के साथ ही बच्चों के लिए भी वेंटिलेटर अब न्यू कोविड हॉस्पिटल मंडी परिसर में तैयार हैं। बच्चों एवं उनकें अभिभावकों में कोविड का संक्रमण का विस्तार ना हो इसके लिए अब स्कूली छात्रों का भी कोविड टेस्ट कराने का निर्णय लिया गया हैं। शिक्षा एवं पंचायत विभाग को भी इस संबंध में अलग से निर्देश दिया गया हैं।

Related Articles